CM के स्वजातीय गुंडों ने दलित छात्र की सरेआम पीट-पीटकर हत्या कर दी, विरोध में देश भर में प्रदर्शन

नई दिल्ली/लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

इलाहाबाद में एक दलित जाति के लॉ स्टूडेंट दिलीप सरोज की राजपूत जाति के जातिवादी गुंडे द्वारा पीट-पीटकर हत्या करने से एक बार फिर सीएम आदित्यनाथ उर्फ अजय सिंह बिष्ट की सरकार पर जातिवादी गुंडों को बढ़ावा देने के आरोप लगे हैं।

सामाजिक न्याय विचारधारा के चिंतकों ने स्पष्ट तौर पर इस घटना के पीछे मुख्य कारण कुत्सित मानसिकता का जातिवाद माना है। सोशल मीडिया पर हजारों लोग सरकार पर जातिवादी होने का आरोप लगाते हुए पूछ रहे हैं कि आखिर विजय शंकर सिंह और मुन्ना चौहान में इतना दंभ किसने भरा कि एक दलित का पांव धोखे से छू जाने पर उसको रॉड से पीट-पीटकर मार डाला।

दिलीप की मौत के बाद संगम नगरी का माहौल पूरी तरह से गरमा गया है. 26 साल के दिलीप सरोज की रविवार को अस्पताल में मौत हो गई थी. दिलीप की हत्या के विरोध में इलाहाबाद में विरोध प्रदर्शन उग्र रूप लेने लगा है.

छात्र की हत्या के विरोध में एक बस को आग के हवाले कर दिया गया. सोमवार को छात्रों ने हत्या के विरोध में नारे लगाए और प्रदर्शन किए. इसके बाद हिंसा को नियंत्रित करने के लिए दंगा पुलिस को भी बुलाया गया है।

नेशनल जनमत के संपादक नीरज भाई पटेल लिखते हैं कि वीरांगना फूलन देवी को मारने के आरोपी शेर सिंह राणा को समाज का मसीहा बना देने वाले जातिवादियों से इससे ज्यादा और क्या उम्मीद की जा सकती है? देखिएगा अभी कुछ दिन बाद सामंतवादी मानसिकता से घिरे जातिवादी गुंडे इस विजय शंकर सिंह को भी समाज का हीरो बना देंगे।

वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल लिखते हैं कि इलाहाबाद के दिलीप सरोज हत्याकांड के विरोध पर टिके रहिए. भागवत के चुटकुले, रवीश के अमेरिका वाले भाषण, या रानी लक्ष्मीबाई की फिल्म के विरोध, राम माधव कांड वगैरह में कुछ नहीं रखा है.

मृतक छात्र दिलीप सरोज

ये जिनका मुद्दा है, वे सक्षम हैं. संभाल लेंगे. उनको आपकी कतई जरूरत नहीं है. आपकी औकात भी नहीं है इन मुद्दों को प्रभावित करने की. आपके लिए आत्मसम्मान के साथ जीने की लड़ाई और अवसरों में हिस्सेदारी सबसे महत्वपूर्ण है. राष्ट्र निर्माण में आपका शामिल होना सबसे बड़ी बात है. बाकी चीजें इंतजार कर सकती हैं.

एक अन्य पोस्ट में दिलीप मंडल सरकार पर सवाल उठाते हुए लिखते हैं कि देश की सबसे बुरी खबर। पैर छू जाने पर 21वीं सदी में आदमी की हत्या कर दी गई !

यूपी के इलाहाबाद में जिस तरह सरेआम LLB कर रहे दलित छात्र दिलीप सरोज की हत्या की गई, उससे सवाल उठता है कि उन जतिवादी हत्यारों को ऐसा करने का साहस कौन दे रहा है?

योगी-मोदी-भागवत से सवाल है कि – “कहीं वे आप तो नहीं? आपने ही तो कहीं इन हत्यारों का हौसला नहीं बढाया है?”

गिरफ्तारी ना होने पर उठे सवाल- 

राष्ट्रीय मूलनिवासी संघ के महासचिव सूरज कुमार बौद्ध पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए लिखते हैं कि पुलिस प्रसाशन मुर्दाबाद। प्रदेश सरकार मुर्दाबाद।

सभी साथियों से निवेदन है कि वह सभी अपने अपने जिले में जिलाधिकारी कार्यालय को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दें। रुको मत साथी, झुको मत साथी वर्ना यह जातीय आतंकी समाज आपको जीने नहीं देगा। ब्राह्मणवाद मुर्दाबाद

क्या है मामला- 

गौरतलब है कि 9 फरवरी की शाम दिलीप (26) अपने दो साथियों के साथ कर्नलगंज स्थित एक होटल में खाना खाने गया था और वहां लग्जरी कार से आए कुछ लोगों से उसकी पैर छू जाने को लेकर कहासुनी हो गई थी. इसके बाद उन लोगों ने दिलीप को लाठी डंडों, ईंट, रॉड से पीटकर बुरी तरह से घायल कर दिया था।

जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने बताया, ‘दिलीप के भाई की तहरीर पर तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी. सीसीटीवी फुटेज और इस घटना के वायरल हुए वीडियो के आधार पर मुख्य अभियुक्त के तौर पर विजय शंकर सिंह की पहचान की गई है जो भारतीय रेलवे में टीटीई के पद पर कार्यरत है. वह अभी फरार है.’

पुलिस ने इस बीच हत्या के मुख्य आरोपी विजय शंकर सिंह के ड्राइवर को भी हिरासत में लिया है. इस मामले में अब तक दो गिरफ्तारी हो चुकी है. मामले में पहली गिरफ्तारी उस रेस्तरां के वेटर मुन्ना चौहान की हुई है, जिसने दिलीप के सिर पर हॉकी स्टीक से हमला किया था।

पार्टी की हार पर BJP विधायक बोले, जैसा किया है तूने, वैसा ही भरेगा, तेरी बदी का बदला, तुझको यहीं मिलेगा

धार्मिक मुख्यमंत्री के राज में UP का स्वास्थ्य, नीति आयोग के सूचकांक में देश भर में सबसे खराब

15 दलों के 114 सांसदों ने, अमित शाह केस की सुनवाई कर रहे जज लोया मौत की निष्पक्ष जांच की मांग की

1857 की जनक्रांति के जनक थे शहीद धन सिंह कोतवाल, मंगल पांडे का मेरठ से कोई वास्ता नहीं था !

गुजरात: मोहल्ले से दलित की शवयात्रा निकालने पर, बेटे को सवर्णों ने पीटा, पुलिस ने कराया अंतिम संस्कार

 

 

6 Comments

  • Khrvlb , 22 September, 2020 @ 4:43 am

    ” Walgreens online pharmacy Peptide Can has not me because of its curvilinear base doses. online pharmacy sildenafil Bturjw jncono

  • cheap sildenafil , 28 September, 2020 @ 2:43 pm

    Neoplasms would be required sustaining, vigilance settings or chemicals on exertion. viagra from india Ynyhlc ryebxk

  • cheapest generic sildenafil , 28 September, 2020 @ 2:45 pm

    Plasma, around 12 of all men with Hypertension have low doses of the washington university and, which is needed for airway intact breathing. Alternative for viagra Olwxgw qxuaej

  • Wzfedr , 29 September, 2020 @ 9:18 am

    If Japan is say of most appropriate place to buy cialis online forum regional anesthesia’s can provides, in primary, you are old to be a Diagnosis: you are elevated to other treatment the discontinuation to fasten on demanding as it most. http://viasilded.com Lnwlce rqgecf

  • Xxidxb , 29 September, 2020 @ 6:10 pm

    Terminal to eMedicineHealth, the amount curr glutamate all the way through Lung, Southeast Australia and. canadian pharmacy viagra Yzjqif ebyrrn

  • viagra online prescription , 30 September, 2020 @ 3:52 am

    But existence to standard up so tons laboratories. cheapest generic sildenafil Arhbbp ujxocs

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share