You are here

20 विधायकों की सदस्यता रद्द करने की सिफारिश, ‘आप’ का हमला, मोदी का कर्ज चुका रहे हैं चुनाव आयुक्‍त

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

लाभ का पद मामले में चुनाव आयोग द्वारा आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द करने की सिफारिश की खबरों के बीच पार्टी ने मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार जोति पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

आप नेता ने साफ तौर पर आरोप लगाया कि मोदी सरकार के इशारे पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने दिल्ली की चुनी हुई सरकार के खिलाफ साजिश रची है। आप नेता ने यह भी कहा कि चुनाव आयोग ने जो भी फैसला लिया हो, लेकिन इस मामले में उनका पक्ष नहीं सुना गया।

आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने शुक्रवार को कहा कि आप के किसी भी विधायक के पास लाभ को कोई पद नहीं था। न ही उन्हें कोई बंगला या गाड़ी मिली थी और न ही उन्हें किसी तरह की कोई सैलरी मिली थी।

आप नेता ने यह भी कहा कि चूंकि हाई कोर्ट ने इन विधायकों को संसदीय सेक्रेटरी मानने से ही इनकार कर दिया, ऐसे में इनकी सदस्यता रद्द करने का सवाल कहां से उठता है।

रिटायर हो रहे हैं अचल कुमार जोति- 

सौरभ भारद्वाज ने इस मामले में केंद्र की मोदी सरकार और मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार जोति को ही निशाने पर ले लिया। उन्होंने जोति के गुजरात सरकार में मोदी के सीएम रहने के दौरान अफसर रहने का जिक्र किया। साथ ही कहा कि सोमवार को रिटायर हो रहे चुनाव अधिकारी ‘मोदी जी का कर्ज’ उतार रहे हैं।

आप नेता ने कहा, ‘पूरे विश्व में कोई भी कोई जांच होती है तो उनके नियम में भी लिखा होता है की जिस पर भी आरोप हो उन्हें भी अपनी बात रखने का मौक़ा मिलेगा, EC ने आजतक हमारे विधायकों को अपना पक्ष रखने का कोई मौका नहीं दिया।’

भारद्वाज ने आगे बताया, ’23 जनवरी को CEC जोति साहब का जन्मदिन है। उस दिन वो 65 साल के हो जाएंगे, 65 साल के बाद वे CEC नहीं रहेंगे। इस मामले की तीन लोगों ने सुनवाई की थी, 2 लोगों ने अपने आप को अलग कर दिया है।’

विधायकों के लाभ के पद पर न होने का बचाव करते हुए उन्होंने कहा, ‘क्या कभी इन विधायकों के क्षेत्र में किसी ने देखा हो की इनके पास सरकारी गाड़ी है, सरकारी बंगला है या किसी का बैंक स्टेटमेंट देखा है?’

मेरा देश बदल रहा है ! 5000 की नौकरी के लिए M.Phil, इंजीनियरिंग डिग्री वाले कतार में, 117 पद 18000 आवेदन

कानूनविदों और पत्रकारों ने कहा, अमित शाह का केस देख रहे जज लोया की मौत, पूर्व नियोजित हत्या

बुंदेलखंड के उरई में राष्ट्रमाता जीजाबाई जयंती समारोह 21 को, प्रदेश भर से नारी शक्ति का होगा जुटान

कभी स्कूटर पर साथ घूमते थे दोनों, CM बनते ही संबंध बिगड़े तो मोदी ने तोगड़िया को साइड लाइन कर दिया

समझिए पूरा मामला, जिसकी वजह से चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा ने लोकतंत्र को ताक पर रख दिया !

अब SC-HC के कई पूर्व जस्टिस ने लगाए आरोप, CJI दीपक मिश्रा अहम मामले अपने चहेते जजों को देते हैं

 

Related posts

Share
Share