You are here

देवरिया: देख लो योगी जी ! फरियाद सुनने के बजाए अश्लील हरकत करने लगा SO, वीडियो वायरल

लखनऊ, नेशनल जनमत डेस्क।

देवरिया पुलिस की छवि को धूमिल करने वाला अश्लील वीडियो वायरल हुया है जिसमें एसओ भटनी महिला फरियादी के सामने ही ऐसी हरकत कर रहा है जिससे इंसानियत भी शर्म से अपना सर झुका ले ।

एक मां अपनी बेटी के साथ कई दिनों से जमीन विवाद को लेकर थाने के चक्कर लगा रही थी जिसकी कोई सुनवाई नही हो रही थी। महिला जब भी थाने जाती उससे अश्लील हरकतें की जाती थीं। थानाध्यक्ष महोदय अक्सर अश्लील हरकत करते थे जिससे परेशान हो पीड़ित घर चली जाती थी।

पीड़िता की मानें तो तत्कालीन एसओ भटनी भीष्मपाल सिंह उसको बार बार फोन करने के लिये कहता था। आखिरकार फरियाद पूरी ना होते देख पीड़िता ने उसकी हरकतों का विडियो बना कर वायरल कर दिया।

एक तरफ तो एसपी देवरिया डॉ. श्रीपति मिश्र अपने मातहत पुलिस कर्मियों को जन सेवा की शपथ दिला रहे हैं तो वहीं उनके पुलिस कर्मी उनके आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। अभी कुछ दिन पहले एक पुलिस कर्मी वर्दी में शराब खरीदते, वर्दी में शराब पीते, तो थाने में फरियादियों की फरियाद सुनने के बजाय सिगरेट पीते वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, लेकिन यह वीडियो जो वायरल हो रहा है उससे तो पूरे पुलिस महकमे को ही शर्मसार कर दिया है।

जिस थाने का मालिक ही ऐसा अश्लील हरकत करता हो वहां महिला पुलिस कर्मी कैसे सुरक्षित रह सकती हैं। वीडियो वायरल होने के बाद देवरिया पुलिस द्वारा इस घटना पर दी गई सफाई पढ़ लीजिए थाना भटनी में दर्ज FIR के माध्यम से अवगत कराया गया कि 22.06.2020 को समय करीब 12.00 बजे प्रार्थिनी अपनी मां के साथ थाना भटनी पर प्रार्थना पत्र लेकर आयी थी।

प्रभारी निरीक्षक भटनी भीष्मपाल सिंह यादव अपने कार्यालय में बैठे थे। वह और उसकी मां अपना प्रार्थना पत्र लेकर कार्यालय में प्रवेश किये तथा अपनी भूमि विवाद के संबंध में तथ्यों से प्रभारी निरीक्षक को बताया जाने लगा। कुछ समय पश्चात् भीष्मपाल सिंह यादव के द्वारा बैठने के लिए कहने पर उक्त लोग वहां रखी कुर्सियों पर बैठ गयीं।

भूमि विवाद के संबंध में बात करते-करते प्रभारी निरीक्षक भटनी अश्लील हरकतें की गईं, जिसका वीडियो उक्त लड़की द्वारा बनाकर अपने परिवार के अन्य सदस्यों को दिखाया गया तथा पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति के माध्यम से मोबाईल पर फॉरवर्ड किया गया।

आरोपी थानाध्यक्ष

इस संबंध में थाना भटनी पर मु0अ0सं0 111/2020 धारा 354(क)/509/166 भादवि का अभियोग पंजीकृत कर विवेचना करायी जा रही है। आरोपी निरीक्षक भीष्मपाल सिंह यादव पूर्व से ही एक अन्य प्रकरण में निलम्बित चल रहे हैं। विधिक कार्यवाही करायी जा रही है।

अब देखना ये होगा कि पीड़िता को इंसाफ मिल पाता है या अपने विभाग के एक इंस्पेक्टर को बचाने के लिए जांच में लीपापोती को खेल कर दिया जाएगा…

गोरखपुर से वरिष्ठ संवाददाता अभिषेक सिंह पटेल की रिपोर्ट 

Related posts

Leave a Comment

Share
Share