लोकतंत्र पर चाटुकार हावी, BJP अध्यक्ष बोले मोदीजी की तरफ उठने वाली उंगली तोड़ देंगे, हाथ काट देंगे

नई दिल्ली, पटना, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

राजनीति में मेहनती कार्यकर्ताओ पर चाटुकारिता सदियों से हावी रही है। सत्ता का नशा इंसान पर ऐसा चढ़ता है कि हकीकत से परे अपनी तारीफ करने वालों को ही अपना हितैषी समझते हैं। कानून व्यवस्था को ताक पर रखकर चाटुकारिता का उत्कृष्ट उदाहारण बिहार बीजेपी अध्यक्ष ने पेश किया है।

बिहार बीजेपी अध्यक्ष और उजियारपुर से लोकसभा सांसद नित्यानंद राय ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश का नेतृत्व करने के लिए कई मुश्किलों का सामना किया था। यह हम सभी के लिए गर्व की बात है। यहां तो सब ठीक था।

लेकिन बोलते-बोलते राय साहब अपनी स्वामिभक्ति नही रोक पाए और बोले ”अगर कोई भी उंगली या हाथ उनके खिलाफ उठा, तो उसे तोड़ या काट दिया जाएगा।”

राय ने वैश्य और कनु (ओबीसी) समुदायों द्वारा आयोजित समारोह में यह बात कही। नरेंद्र मोदी की अतीत से लेकर पीएम बनने की यात्रा को याद करते हुए बिहार बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ”जिनकी मां खाना परोसती थी, नरेंद्र मोदी को खाना खिलाने बैठी थी, उस थाली में मां को ना बेटा और बेटे को ना मां दिखाई देती थी।

आज उस परिस्थिति से उठकर वह देश से पीएम बने हैं। गरीब का बेटा, उसका स्वाभिमान होना चाहिए, एक एक व्यक्ति को इसकी इज्जत होनी चाहिए।” राय ने आगे कहा, ”उनकी ओर उठने वाली उंगली को, उठने वाले हाथ को…हम सब मिलके…या तो तोड़ दें, जरूरत पड़ी तो काट दें”।

डिप्टी सीएम और पार्टी नेता सुशील मोदी भी राय के साथ मंच पर मौजूद थे। गौरतलब है कि राय वैशाली से आते हैं और दिसंबर 2016 में बिहार बीजेपी के अध्यक्ष बने थे।

हाईकोर्ट ने CBSE से कहा, RTI आवेदक को केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की शिक्षा का रिकॉर्ड बताओ

पढ़िए, पश्चिमी देशों का विज्ञान जब वर्ण, जाति, गोत्र से भरे ‘महान’ भारत में घूमने आया तो क्या हुआ ?

डरी हुई BJP ने UP में पहली बार किसी CM को चुनाव प्रचार में उतारा है, अब PM का इंतजार है- नरेश उत्तम पटेल

कोई लड़ रहा है तो कोई मौन है, आओ देखते हैं क्रांतिकारी कौन हैं…सूरज कुमार बौद्ध की कविता

BJP प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने खड़ा किया नया विवाद, बोले अशोक नहीं चंद्रगुप्त मौर्य महान थे

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share