You are here

वसुंधरा सरकार को भारी पड़ रहा है जाट नेता बेनीवाल का निलंबन, 1 जून को राजस्थान बंद

जयपुर। नेशनल जनमत ब्यूरो

खींवसर के निर्दलीय विधायक और कद्दावर किसान नेता हनुमान बेनीवाल का राजस्थान विधानसभा से निष्कासन रद्द करने की मांग जोर पकड़ती जा रही है. विभिन्न सामाजिक और किसान संगठन जयपुर में लगातार प्रदर्शन करके निलंबन वापस करने की मांग कर रहे हैं. धीरे-धीरे ये मांग राजनीतिक से ज्यादा मान-सम्मान का सवाल बनती जा रही है. जाट से लेकर दलित और युवा से लेकर किसाानों के विभिन्न संगठनों ने 30 मई को सिविल लाइंस का घेराव और 1 जून को राजस्थान बंद करने की चेतावनी दी है. 

मान-सम्मान बचाओ कमेटी का गठन- 

हनुमान बेनीवाल के समर्थन में किसानों ने मान-सम्मान बचाओ कमेटी का गठन किया है. इस कमेटी ने वसुन्धरा सरकार पर आरोप लगाया है कि सरकार ने किसान नेता हनुमान बेनीवाल को निष्कासित करके लोकतंत्र का गला घोंट दिया है. हनुमान बेनीवाल ने हमेशा किसानों और दलितों के हक में सदन से लेकर सड़क तक आवाज उठाई है. उनको निलंबित करके सरकार ने किसानों और दलितों को अपमानित किया है.

प्रदेश व्यापी आंदोलन की तैयारी- 

प्रदेशव्यापी आंदोलन के लिए सात सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है. इसमें किसान बचाओ, देश बचाओ, वीर तेजा सेना राजस्थान, राजस्थान मरु प्रदेश किसान मोर्चा, बहुजन स्टूडेंट फ्रंट, भारतीय किसान यूनियन सहित कई संगठन शामिल हैं. किसान बचाओ देश बचाओ संघर्ष समिति के प्रतिनिधि पंकज धनखड़ ने बताया कि बेनीवाल का निलंबन प्रदेश के किसानों का अपमान है।

क्यों हुआ था निलंबन- 

राजस्थान विधानसभा में बजट सत्र के दौरान प्रश्नकाल शुरू हुआ तो कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह डोटासरा ने एक पूरक प्रश्न पूछने के लिए बटन दबाया, लेकिन स्पीकर कैलाश मेघवाल ने उन्हें मौका नहीं दिया. डोटासरा ने इसका विरोध किया तो स्पीकर ने कहा कि यह उनके अधिकार क्षेत्र का मामला है. इसी बात पर विपक्षी विधायक अशोक चांदना और धीरज गुर्जर समेत कई विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया. बाद में सदन की व्यवस्था बनाए रखने के लिए स्पीकर को मार्शल बुलाने पड़े. इसी मामले को अनुशासनहीनता मानते हुए 14 विधायकों का निलंबन हुआ था, जिसमें बेनीवाल भी एक थे.

कांग्रेस के 12 विधायकों का निलंबन हो चुका है वापस- 

मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस की तरफ से पहल करने के बाद विपक्ष के 14  में से 12 कांग्रेसी विधायकों का निलंबन एक साल से घटाकर एक दिन कर दिया गया. जबकि बसपा के मनोज न्यांगली और निर्दलीय हनुमान बेनीवाल के एक साल के निलंबन में बदलाव नहीं किया गया है. कहा गया है कि जब तक दोनों विधायक स्पीकर के चैंबर में जाकर उनसे माफी नहीं मांगते तब उनके निलंबन में बदलाव नहीं किया जाएगा.

 

Related posts

9 Thoughts to “वसुंधरा सरकार को भारी पड़ रहा है जाट नेता बेनीवाल का निलंबन, 1 जून को राजस्थान बंद”

  1. Comment…महारानी का घटिया फैसला ..
    बेनीवाल को निलंबित करके की लोकतंत्र की हत्या

    किसानो व दलितो का किया अपमान ।
    किसान नेता बेनिवाल का निलंबन वापस होना चाहिए ।।

  2. Yashpal

    माननीय हनुमान बेनीवाल का निलबंन , समस्त किसान एवम मजदूर वर्ग का अपमान है ।।

  3. बैनीवाल साब कै हक है उसे वापस लैना चाहिए

  4. राजस्थान की आज तक की घटिया मुख्यमंत्री उसको जितना कमाना था कमा लिया उसे अब हमेशा के लिए ईगँलेड मे रहना है

    1. महारानी का घटिया फैसला .. बेनीवाल को निलंबित करके की लोकतंत्र की हत्या किसानो व दलितो का किया अपमान । किसान नेता बेनिवाल का निलंबन वापस होना चाहिए ।।

  5. Moola Ram Jakhar Betwasiya

    खिंवसर के लोकप्रिय विधायक व किसान नेता हनुमान जी बेनिवाल का विधानसभा से निलम्बन करके किसान कौम का घौर अपमान किया! राजस्थान की सरकार किसानों की विरोधी है! हनुमान जी बेनिवाल ने राज्य में किसानों, दलितों व नौजवानोंं की आवाज को बुलन्द किया और भविष्य में भी करते रहेंगे! मेरा राज्य की सरकार से गुंजारिश है कि अतिशीघ्र हनुमान जी बेनिवाल का निलम्बन वापस ले!अगर अतिशीघ्र निलम्बन वापस नहीं लिया गया, तो राजस्थान की जनता व किसान कौम सड़कों पर उग्र आन्दोलन करेंगी!जय जवान, जय किसान! मूलाराम जाखड़, पण्डित जी की ढाणी (औसिया) जोधपुर राजस्थान

  6. Gordhan Singh

    ये वसुन्धरा सरकार किसानो का गला दबाना चाहती है पर ये
    हनुमान जी दबाने ही नहीं देते हर मामले में किसानों का साथ देते है तब वसुन्धरा जी क्या करेगी|

  7. dr. mlsiyag

    पोपा बाई का राज़ नही चलेगी .. नही चलेगा ,,, ए महारानी अब कबी सीईम बनाने का सपना भी मत देखना ……क्योकि तुजे तो सपनो में हनुमान बेनीवाल दीखे गा

  8. 584700 555336Howdy! I just want to give an enormous thumbs up for the excellent details you may have here on this post. I will likely be coming back to your weblog for a lot more soon. 811676

Leave a Comment

Share
Share