गुजरात में बोलीं मायावती, दलित और ओबीसी नेता BJP में हमेशा RSS के बंधुआ मजदूर बने रहेंगे’

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने बीजेपी और आरएसएस को खरी-खरी सुनाई है। उन्होंने बीजेपी सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए बहुजनों को इनसे सावधान रहने की अपील की।

यूपी की पूर्व सीएम ने कहा, बीजेपी कितनी ही सफाई दे कि वह दलित और ओबीसी के साथ है लेकिन इनके झांसे में नहीं आना चाहिए। बीजेपी का चेहरा दिखावटी है, इसके नेता कहते कुछ हैं और करते कुछ हैं।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने पीएम मोदी के गृह राज्य गुजरात में चुनावी बिगुल फूंका। वड़ोदरा में जनसभा को संबोधित करते हुए मायावती ने पीएम मोदी पर खुलकर निशाना साधा। पीएम को आड़े हाथों लेते हुए मायावती ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी वोट बैंक बढ़ाने के लिए संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अंबेडकर का इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने कहा,ये पीएम की सोची समझी नीति है जिसके तहत वह बहुजनों को अपने पक्ष में करने की जी तोड़ कोशिश कर रहे हैं

मायावती ने बहुजनों को आगाह करते हुए कहा, भाजपा के ओबीसी एवं दलित नेता चाहे प्रधानमंत्री बन जाएं चाहे मुख्यमंत्री लेकिन वे हमेशा आरएसएस के बंधुआ मजदूर बनें रहेंगे। बगैर आरएसएस और बीजेपी के आदेश के वह कोई काम नहीं कर पाएंगे।

बौद्ध धर्म ग्रहण करने की धमकी- 

मायावती ने कहा, बीजेपी की सामंतवादी सोच है। ये पार्टी आज भी दलितों और बहुजनों के खिलाफ जातिगत भेदभाव करती है। मायावती ने चेतावनी देता हुए कहा, अगर धार्मिक नेता दलितों और बहुजनों के प्रति अपनी सोच में बदलाव नहीं लाये तो बड़ी संख्या में उनके समर्थक बौद्ध धर्म स्वीकार कर लेंगे।

बीएसपी ने गुजरात विधान सभा चुनाव अकेले लड़ने का ऐलान किया है। बहुजन समाज पार्टी गुजरात में सभी सभी विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी। पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा के मुताबिक, बीएसपी गुजरात में चुनाव लड़ने के लिए तैयार है और आने वाले दिनों में बसपा पूरे दमखम के साथ गुजरात में चुनाव प्रचार करेगी।

BHU: ‘तुम रेप कराने के लिए रात में बाहर जाती हो’ क्या ऐसे कुलपति को बर्खास्त नहीं करना चाहिए PM मोदी को ?

PM की काशी: VC के निर्देश पर देर रात BHU में पुलिस घुसने से बवाल, न्याय मांग रहीं छात्राओं पर बरसाई लाठियां

पटेल-दलित आंदोलन का दिखने लगा असर, गुजरात चुनाव से पहले BJP नेता ने थामा कांग्रेस का हाथ

नोएडा से अगवा कर लड़की से चलती कार में सामूहिक बलात्कार, दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर के पास फेंका

भगवाराज: गरबा में आने वालों को गौमूत्र से शुद्धिकरण और लाल तिलक लगाए बिना नहीं मिली एंट्री

JNU-DU के बाद हैदराबाद वि.वि. में छात्रों ने भगवा सोच को नकारा, जीत रोहित वेमुला को समर्पित

भारतीय परम्पराओं में ही भ्रष्टाचार शामिल है, काम कराने की नियत से लोग भगवान को भी घूस देते हैं

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share