You are here

CM भूपेश बघेल पर बौखलाया अर्णब, लोग बोले पागलखाने भेजो

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

गोदी मीडिया के तथाकथित पत्रकारों ने सत्ता की चरण वंदना को ही अपनी चैनलों का मुख्य एजेंडा बना लिया है। इक्का-दुक्का खबरिया चैनलों को छोड़कर इनकी बहस देखकर ऐसा लगता है मानो इस बात की होड़ मची हो की विपक्ष पर अशोभनीय टिप्पणियां करके कौन सत्ता का ज्यादा करीबी बनकर रह सकता है।

सत्ता की चाटुकारिता, गुलामी, भाटगीरी, चरण वंदना के इस मोदी युग में अर्णव गोस्वामी चाटुकारिता के शिखर पर बैठा है हालांकि दीपक चौरसिया और अमीश देवगन इस मामले में कड़ी टक्कर देते हैं लेकिन फिजूल के बयानों से अर्णव खुद को शीर्ष पर रखे हुए है।

लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच शुरू हुई हिंसक झड़प से दोनों देशों के रिश्तों में तल्खी आयी है। ऐसे में भारत और चीन के बीच लगातार सैन्य व राजनैतिक स्तर पर तनातनी बानी हुई है।

सीमा पर तनाव देखते हुए कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि चीन को उसी भाषा में जवाब दिया जाना चाहिए, जो उसे समझ आये। साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय सेना के हथियार अंडे देने के लिए नहीं हैं।

इसी मुद्दे पर डिबेट कर रहें गोदी मीडिया के चहेते पत्रकार अर्णब गोस्वामी ने वचित वर्ग के संरक्षण बने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर अपमानजनक टिप्पणी की।

दरअसल साल 2019 में भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में ओबीसी एससी और एसटी को दिए जाने वाले 58 फीसदी आरक्षण को बढ़ा कर 72 फीसदी किया था। जिसपर बौखलाय जातिवादी मीडिया के लोग उन्हें अपना निशाना बनाने का मौका ढूंढ रहे थे।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने अपने ट्वीट में लिखा है ‘हमें उन्हें उनकी भाषा में जवाब देना चाहिए। हमारी सेना के पास अंडे देने के लिए हथियार नहीं रखे हैं। चीन को आक्रामक तरीके से जवाब दिया जाना चाहिए, भारतीय सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता के मद्देनजर, चीन लगातार हमारी जमीन पर अवैध कब्जा कर रहा है। हम रेड आर्मी के सामने खुद को गिरने का जोखिम नहीं उठा सकते।

इसी पर रिपब्लिक भारत के संपादक अर्णब गोस्वामी ने एक डिबेट शो रखा जिसका मुद्दा था -क्या जवानों को शहादत के बदले में हथियार मिलेंगे? ऐसे में इसी डिबेट के दौरान जातिवादी मीडिया के पत्रकार अर्णब गोस्वामी ने मौका पाकर अपनी भड़ास निकलते हुए छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल पर आपत्तिजनक बयान दे डाला।

डिबेट के दौरान अर्णब कहने लगा कि –छत्तीसगढ़ के उस मुख्यमंत्री का नाम क्या है जो सोनिया गांधी का चमचागिरी करते रहता है।पैनल में किसी ने कहा कि भूपेश बघेल। इस पर, अर्नब ने कहा, ” सुनो बघेल … एक एफआईआर इस बात पर भी करा देना कि मैंने पूछा कि क्या आप इटली की सेना के बारे में ऐसे बोलते हो।” अर्णब गोस्वामी द्वारा छत्तीसगढ़ के सीएम को दिए गए अप्पतिजनक बयान को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है।

 

 

Related posts

Leave a Comment

Share
Share