You are here

‘फर्जी एनकाउंटर’ पर उठाए सवाल तो थानाध्यक्ष ने दी रिहाई मंच के महासचिव राजीव यादव को धमकी

लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

उत्तर प्रदेश में हो रहे एनकाउंटरों को फर्जी व जाति आधारित बताने पर आजमगढ़ पुलिस के थानाध्यक्ष ने रिहाई मंच के महासचिव को फोन करके धमकाया है। इस मामले में रिहाई मंच ने लखनऊ प्रेस क्लब में प्रेस कांफ्रेंस करके इस घटना पर कड़ा प्रतिरोध जताया है।

इस दौरान रिहाई मंच का समर्थन करते हुए वरिष्ठ पत्रकार शरद प्रधान, पूर्व आईजी व सामाजिक कार्यकर्ता एसआर दारापुरी, पूर्व डीआईजी सैय्यद वसीम अहमद व सामाजिक कार्यकर्ता अरुंधति ध्रुव ने कहा कि राजीव योदव को धमकी बताती है कि लोकतांत्रिक सवालों को उठाने वाले सुरक्षित नहीं।

राजीव यादव ने जो वीडियो रिकॉर्डिंग नेशनल जनमत को सुनवाई उसके अनुसार अगर दूसरी तरफ आजमगढ़ जिले के कंधरापुर थाने के प्रभारी अरविंद यादव ही हैं तो उन्होंने राजीव को परिणाम भुगतने की धमकी दी है।

कॉल रिकॉर्डिंग में स्पष्ट सुनाई पड़ रहा है ‘‘सुन लो राजीव होश में रहो दिमाग ठिकाने कर लो,’’ ‘‘ठीक नहीं होगा तुम्हारे लिए’’

सुनिए क्या कहा महासचिव राजीव यादव ने- 

आईजी लोक शिकायत ने दिया आश्वासन- 

फर्जी मुठभेड़ पर सवाल उठाने पर रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव को आजमगढ़ कन्धरापुर थाना प्रभारी के द्वारा गाली गलौज करने और धमकी देने पर रिहाई मंच के प्रतिनिधि मंडल ने आईजी लोक शिकायत मोहित अग्रवाल से मुलाकात कर शिकायती पत्र के साथ कॉल डिटेल का ब्यौरा भी सौंपा.

प्रतिनिधि मंडल को मोहित अग्रवाल ने निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया है. इसी मुद्दे पर शनिवार को प्रेस क्लब लखनऊ में रिहाई मंच और न्याय पसंद सामाजिक कार्यकर्ताओं ने प्रेस कांफ्रेंस की।

इस दौरान रिहाई मंच लखनऊ प्रवक्ता अनिल यादव ने बताया कि रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव को आजमगढ़ के कन्धरापुर थाना प्रभारी अरविंद यादव ने अपने सीयूजी नम्बर 9454402912 से करीब 10 बजे रात फोन करके धमकाया।

उन्होंने गालियां देते हुए कहा ‘‘ठीक नहीं होगा जान लेना,’’ ‘‘सेहत के लिए ठीक नहीं होगा,’’ ‘‘इसे परामर्श समझो या धमकी जो भी समझते हो समझ लो,‘‘ ‘‘तुम्हारे घर पर आऊंगा,’’ ‘‘मैं कल आ रहा हूं तुम्हारे घर,’’ ‘‘ये बताओ तुम्हारा आफिस कहां है,’’ ‘‘रहते कहां हो,’’ ‘‘कल अगर नहीं आए तो ठीक नहीं होगा,’’ ‘

‘कल शाम तक नहीं आए तो मुकदमा लिखूंगा,’’ ‘‘तुम रंडी की औलाद है,’’ ‘‘ मैं कह रहा हूं तुम अपने बाप की औलाद नहीं हो,‘‘ ‘‘अगर फिर नाम छप गया तुम्हारे मंच से तुम अपने लिए खैर मत समझना,’’ ‘‘सुन लो राजीव होश में रहना होश में रहो दिमाग ठिकाने कर लो,’’ ‘‘ठीक नहीं होगा तुम्हारे लिए’’ के साथ मुक़दमा दर्ज़ करने की धमकी दी।

पूर्व आईपीएस, पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ताओं का मिला साथ- 

प्रेस कांफ्रेंस में राजीव यादव के समर्थन में बोलते हुए पूर्व आईपीएस एसआर दारापुरी ने कहा कि ये धमकी बताती है कि लोकतंत्र के माध्यम से आईं सरकारें लोकतांत्रिक मूल्यों के हनन के लिए सत्ता का बेजा इस्तेमाल करती हैं। उन्होंने कहा प्रदेश भर में तमाम मामलों में फेक एनकाउंटर होने की आशंका बढ़ती जा रही है।

वरिष्ठ पत्रकार शरद प्रधान बोले प्रदेश पुलिस लगातार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर खतरा बनी हुई है। पूर्व डीआईजी सैयद वसीम अहमद बोले राजीव यादव की धमकी तो एक नमूना है, सोचिए जिन परिवारों के लड़कों को एनकाउंटर के नाम पर मार दिया गया वो कितने खौफ में जी रहे होगे।

इस दौरान रिहाई मंच के अध्यक्ष मोहम्मद शुएब, सामाजिक कार्यकर्ता अरुंधति ध्रुव, विनोद यादव, शम्स तबरेज़, रॉबिन वर्मा, राजीव यादव और अनिल यादव मौजूद थे।

SC/ST एक्ट कमजोर करने वाले जस्टिस को मोदी सरकार ने रिटायरमेंट के दिन ही NGT का चेयरमैन बनाया

लखनऊ वि.वि. बवाल: गिरफ्तार छात्र बोले, इससे अच्छे तो अंग्रेज थे, सत्याग्रह और अनशन तो करने देते थे

अपना दल (S) में बड़ी दरार के संकेत, अनुप्रिया पटेल के शक्ति प्रदर्शन में नहीं पहुंचे विधायक आर के वर्मा

अब OBC मंत्री के परिवहन विभाग की वैकेंसी में ही OBC का आरक्षण खत्म, पद-127, सामान्य-100, OBC-0

 

 

Related posts

Share
Share