You are here

आरजेडी कार्यकर्ताओं का आक्रोश देख, भाजपाईयों ने उतार दिए घरों और गाड़ी से पार्टी के झंडे

पटना। नेशनल जनमत ब्यूरो

आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव और उनके रिश्तेदारों के घर पर हुई इन्कम टैक्स विभाग की कार्रवाई से आरजेडी कार्यकर्ता आक्रोशित हैं. कार्यकर्ताओं का आरोप है कि कार्रवाई राजनीतिक है और बीजेपी के इशारे पर हुई है.आक्रोशित कार्यकर्ता पटना की सड़कों पर दो दिन से उतरे हैं. इस दौरान उनकी कई जगहों पर बीजेपी के कार्यकर्ताओं से झड़प भी हुई.

बीजेपी के कार्यकर्ताओं का आरोप तो ये भी है कि आरजेडी के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के लोगों को कई जगह दौड़ाकर पीटा. इतना ही नहीं जहां भी बीजेपी का झंड़ा लगी गाड़ी देखी, उसे चकनाचूर कर दिया. राजद कार्यकर्ताओं का रौद्र रूप देखकर भाजपा के कार्यकर्ताओं में दहशत फैल गई. हालत ये थी कि जिस भगवा गमछे को आजकल बीजेपी के लोग वीआईपी स्टेटस के रूप में कंधे पर टांगे घूम रहे हैं, वो भगवा गमछा देखते ही देखते गायब हो गया.

प्रत्यक्षदर्शियों का तो यहां तक कहना है कि विवाद बढ़ता देख बीजेपी कार्यालय के आसपास के घरों से बीजेपी के कार्यकर्ता अपने-अपने घरों और गाड़ियों से बीजेपी का झंडा निकालना शुरू कर दिए. फिलहाल दोनों ओर से आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है.

Related posts

17 Thoughts to “आरजेडी कार्यकर्ताओं का आक्रोश देख, भाजपाईयों ने उतार दिए घरों और गाड़ी से पार्टी के झंडे”

  1. नाथूराम

    1सप्ताह में दूसरी बार यह नजारा मिला कि ‘जिस भगवा गमछे को आजकल BJP के लोग VIP स्टेटस के रूप में कंधे पर टांगे घूम रहे हैं,वो भगवा गमछा देखते ही देखते गायब हो गया!’

  2. नाथू

    1सप्ताह में दूसरी बार यह नजारा मिला कि ‘जिस भगवा गमछे को आजकल BJP के लोग VIP स्टेटस के रूप में कंधे पर टांगे घूम रहे हैं,वो भगवा गमछा देखते ही देखते गायब हो गया!’

    1. विकास

      मैं खुद मौजूद था घटनास्थल के पास, भाजपा कार्यालय में कुल 12 लोग थे वो भी कार्यालय कर्मी, वो कोई कार्यकर्ता नही थे, कार्यकर्ता तो गर्दनीबाग में थे धरना पर बैठे। करीब 450 की संख्या में राजद के नपुंसक गुंडे ने पहले गेट के गार्ड को गाली दी, फिर गेट पे लात मारी, जब इसका प्रतिकार 2 बुजुर्ग कर्मी ने किया तो इनलोगो ने गाली गलौज के साथ लाठी चटकाना शुरू कर दिया।। बूढ़े थे तो क्या हुआ भगवा शेर थे उतने कम संख्या में रहते हुए भी भरपूर ठुकाई करी कुछ राजद के कुत्तों की।। बाद में उनलोगों ने इंटा और पत्थर चलाना शुरू कर दिया।। वो तो भला हो वहाँ आसपास रह रहे दलित और मजदूर झोपड़पट्टी वालो का जिनलोगों ने प्रतिकार स्वरूप राजद के गुंडों के ऊपर इधर से भी इंटा और पत्थर चलाया।। भगवा शेर सच्चा देशभक्त होता है, हम लोगो को भ्रस्टाचारी और पाकिस्तान परस्तो से भय नही होता।। 10 ही थे लेकिन 25 को घायल किये, ये दम होता है भगवा में।।
      निंदकों की निंदा करने वाले मैं आप जैसे मौकापरस्त निंदक की निंदा करता हूँ।।

      1. सरोज सिंह

        रे शेर तू बताएंग किस मांद में रहता है ?

  3. Murad Ali

    Jesi krni wesi bharni
    Beej babool ka boya to phal ki kamna kyo krte ho

  4. नाथू

    मैं भी निंदनीय-निंदा की इस घड़ी में निंदकों की निंदा करता हूँ!

  5. नाथू

    अगर गैर-भाजपा दलों (जैसे राजद कार्यकताओं) या भगवागूण्डों के अन्याय के विरुद्ध बोलने वाले दलितों-मुस्लिमों की जगह भगवा गमछेधारी भले ही सशस्त्र होकर हत्या, लूट, बलात्कार करें, दलितों के साथ मारपीट, हत्या, स्त्रियों के साथ दुर्व्यवहार आदि करके उनके आशियाने उजाडे़, गौभक्ति के बहाने निर्दोष मुसलमानों की हत्यायें आदि कार्य करें, तो वे गमछेधारी ‘देशभक्त’ और ‘धर्मयोद्धाओं’ की श्रेणी में आते है।

  6. Prakash lad

    By sharing such news are we not supporting goodness? Let law take the action.

  7. KAUSHIK KAMAL

    Absolutely right. Inhe aise hi jawab ki jarurat hai

  8. KAUSHIK KAMAL

    Absolutely Right

  9. आमिर

    जब जनसंघी गुंडे सड़क पर तांडव करते हैं तो वह उनका लोकतांत्रिक अधिकार होता हैं मगर जब कोई और करे तो वह देशद्रोह। जय संघ सरकार ।

  10. Irshad

    Susil modi ki bhi c b i janch kerwao bahut haram ka mal ikattha ker rakha he aur jo bhi huwa achha huwa

  11. Raavan v ek mhapursh brahmn thaa..bs uski mai usko le dubi…bjp v oosi mei se aage bdh rhi haimm

  12. Shah Alam

    3 sal me bjp ne apne bahut sare vado ko pura kiya jisme ek vada ye bhi tha ki,
    Hm kisi ko ghunda gardi nahi karne denge
    Bahut time se hm bear karrahe the
    Ab ghunda gardi sirf hm karenge,

  13. हरी सिन्ह

    शायद इन नकली देश भक्तो क इससे अच्झा इलाज ह भी नही

  14. Raj Ambedkar

    Jaruri bhi h bhai…..

Leave a Comment

Share
Share