सबूत मिटाने के लिए सृजन घोटाले के 6 आरोपियों को जहरीला इंजेक्शन देकर मारा गया है-राबड़ी देवी

नई दिल्ली/पटना, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की पत्नी ने कहा है कि करोड़ों रुपये के सृजन स्वयं सेवी घोटाले में अब तक छह आरोपियों की मौत हो चुकी है इन सभी घोटाले से जुड़े आरोपियों को सबूत मिटाने के लिए जहरीला इंजेक्शन देकर मारा गया है।

बिहार विधान परिषद में मीडिया से रूबरू होते हुए बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, बिहार का सृजन घोटाला मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि यह घोटाला उससे भी बड़ा है। व्यापमं घोटाला अब बिहार में आ गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि छह आरोपियों की मौत कैसे हो सकती है?

राबड़ी देवी ने कहा कि इन आरोपियों को जहर की सुई देकर मारा गया है ताकि पर्याप्त सबूत मिटाए जा सकें, और कथित घोटाले के साक्ष्य मिटाकर उस पर पर्दा डाला जा सके। उन्होंने आगे कहा कहा कि, केंद्रीय जांच ब्यूरो की जांच सुप्रीम कोर्ट की देख-रेख में की जाए। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर हमला करते हुए कहा कि इन लोगों को अपना इस्तीफा दे देना चाहिए।

आपको बता दें सृजन घोटाला स्वयं सेवी संस्थान सृजन महिला विकास समिति द्वारा सरकारी खातों से अवैध तरीके से 1 हज़ार करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि का हस्तांतरण है। इस मामले पर बिहार विधान मंडल के मानसून सत्र के दौरान दोनों सदनों में विपक्ष लगातार हंगामा कर रहा है, जिससे सदन की कार्यवाही बाधित हो रही है।

विपक्ष ने आरोप लगाया कि जब तक नीतीश कुमार और सुशील मोदी इस्तीफा नहीं दे देते तब तक सदन की कार्यवाही बाधित की जाएगी और इसे चलने नहीं दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share