You are here

पढ़िए ! क्यों डॉ. अनूप पटेल ने JNU के कुलपति के हाथों से न Ph.D की डिग्री ली ना ही उनसे हाथ मिलाया

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।  देश के प्रतिष्ठित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में आज (बुधवार) को एक अजीब स्थिति उत्तपन्न हो गई। जब मंच पर पहुंचे डॉ. अनूप पटेल ने कुलपति जगदीश कुमार के हाथों से ना सिर्फ पीएचडी डिग्री लेने से मना कर दिया बल्कि उनसे हाथ भी नहीं मिलाया। ऑल इंडिया काउंसिल फॉर पर टेक्नीकल…

Read More

पिछड़ों को कांग्रेस से जोड़ने की कवायद, लखनऊ पहुंचे OBC विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष ताम्रध्वज साहू

लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो।  2019 के आम चुनाव में एक बार फिर बीजेपी देश के बहुसंख्यक पिछड़े समुदाय का वोट हासिल करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जाति को सामने लेकर आएगी। एक बार फिर से मंचों से उन्हे चिल्ला- चिल्लाकर पिछड़ी जाति का बताया जाएगा। बीजेपी के इसी मुद्दे की काट के लिए कांग्रेस ने अभी से तैयारी…

Read More

गुजरात चुनाव: हार-जीत से परे इन 3 युवा शख्सियतों ने पूरे देश के युवाओं को ऊर्जा से भर दिया है

नई दिल्ली/अहमदाबाद,  नेशनल जनमत ब्यूरो।  गुजरात मे चुनाव प्रचार का समय खत्म हो चुका है। अब दो रातें ही शेष हैं। इन दो रातों में गुजरात की दिशा के साथ-साथ देश की दिशा भी तय होगी। राजनीति के जानकार मान रहे हैं कि गुजरात चुनाव परिणाम 2019 के लिए जमीन तैयार कर देंगे। चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद गुजरात में…

Read More

मरते दम तक रामस्वरूप वर्मा के साथ ब्राह्मणवाद की कब्र खोदते रहे बिहार लेनिन बाबू जगदेव कुशवाहा

लखनऊ। (नेशनल जनमत ब्यूरो) 5 सितम्‍बर जगदेव बाबू के शहादत दिवस पर अनूप पटेल का विशेष लेख: सौ में नब्बे शोषित है, धन, धरती और राजपाट में नब्बे भाग हमारा है/दस का शासन नब्बे पर, नहीं चलेगा,.. नहीं चलेगा.”… जिस लड़ाई की बुनियाद आज मै डाल रहा हूँ, वह लम्बी और कठिन होगी. चूंकि मै एक क्रांतिकारी पार्टी का निर्माण…

Read More

सामाजिक न्याय के परिप्रेक्ष्य में महामना रामस्वरूप वर्मा का जीवन दर्शन और अर्जक संघ भाग-1

नई दिल्ली। अनूप पटेल (नेशनल जनमत ब्यूरो)  जिसमे समता की चाह नहीं, वह बढ़िया इंसान नहीं. समता बिनु समाज नहीं, बिनु समाज जनराज नहीं. ऊपर की दो पंक्तियों से बढ़कर भारतीय लोकतंत्र की व्याख्या नहीं हो सकती. लोकतंत्र के लिये प्रथम आवश्यक शर्त है- मनुष्य में समता का भाव. समता के बिना समाज नहीं बन सकता. समाज = सम+आज अर्थात…

Read More

योगीराज: बीजेपी विधायक की गुंडई,अनूप पटेल की बीम तुड़वाई फिर जेल भेजने की धमकी भी दी

नई दिल्ली/लखनऊ। नेशनल जनमत ब्यूरो सत्ता किसी भी हो पार्टी कोई भी हो, सभी बड़े-बड़े वायदे करके सत्ता में आते हैं और फिर सत्ता में आते ही शुरू हो जाता है सत्ता के दुरुपयोग का खेल. सत्ता का नशा ही कुछ ऐसा होता है जिसमें सही-गलत, न्याय-अन्याय के बीच का फर्क मिट जाता है. अखिलेश राज को गुंडई बताने वाले…

Read More
Share
Share