You are here

खामोशी से बैठे पिछड़ों ! अगला नंबर मेरा या आपका हो सकता है, वे आंदोलनकारियों को कुचल रहे हैं

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।  अगला नाम मेरा या आपका या किसी का भी हो सकता है, तैयार रहें. वे एक-एक करके सबको कुचल रहे हैं, अगर हम नहीं सुधरे तो कभी तो हमारी बारी भी आयेगी. रोहित वेमुला को न्याय नहीं मिला. रोहित चौधरी को न्याय नहीं मिला. नज़ीब को न्याय नहीं मिला. अख़लाक़ को न्याय नहीं मिला. अफराजुल…

Read More

मनुवादियों ने अपनी ‘गोमाता’ की सेवा करने के बजाए उसका भार साजिशन किसानों पर डाल दिया है

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  इन दोनों केन्द्र और उत्तर भारत के कई राज्यों में बीजेपी की सरकार होने से गाय राजनैतिक एजेंडे में ंशामिल हो गई है. एक बेजान जानवर को धार्मिक मान्यता का रंग देकर बीजेपी, संघ और उससे जुड़े हिंदु युवा वाहिनी और बजरंग दल जैसे दर्जनों संगठनों के लोग भगवा गमछा डालकर गोसेवक की बजाए गोगुंडे बन…

Read More

‘जाटों के निर्णायक वोट से बनी बीजेपी सरकार जाट इतिहास को ही कब्र में दफना रही है’

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो। राजस्थान को जाट बाहुल्य प्रदेश माना जाता है.ऐसे में ये कहना अतिश्योक्ति नहीं होगा कि वसुंधरा सरकार अन्य जातियों के साथ ही इन्हीं जाटों के निर्णायक वोटो के सहारे सत्ता में पहुंची. अब राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार और उनके शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी धीरे-धीरे स्कूलों में संघ का एजेंडा लागू करते जा रहे हैं.…

Read More
Share
Share