You are here

लखनऊ में संविधान विरोधियोंं के खिलाफ ‘लक्ष्य’ ने साधा निशाना, देशद्रोह के तहत कार्रवाई की मांग

लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो।  9 अगस्त को दिल्ली के जंतर मंतर पर कुछ आरक्षण विरोधी जातिवादी संगठनों द्वारा देश का संविधान जलाने का प्रकरण थमने का नाम नहीं ले रहा। वजह सिर्फ इतनी है कि पूरे प्रकरण में दिल्ली पुलिस और केन्द्र सरकार का रवैया निराशाजनक रहा है। केन्द्र सरकार के अधीन आने वाली पुलिस पहले तो अपनी आंखों के सामने…

Read More

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की इस सूची ने साबित कर दिया कि RSS के लिए हिन्दु का मतलब सिर्फ ब्राह्मण है !

नई दिल्ली, नीरज भाई पटेल ( नेशनल जनमत)  राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर प्रगतिवादी लेखकों और बहुजन चिंतकों की तरफ से दो बातों पर सवाल हमेशा से सवाल उठते रहे हैं, एक तो आरएसएस का देश के स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान और दूसरा आरएसएस में हिन्दु के नाम पर ब्राह्मण नेतृत्व। आरएसएस की स्थापना 1925 में केशव बलिराम हेडगेवार ने…

Read More

बाबा साहेब के विचारों को समझे बगैर उनको पूजने लगना ब्राह्मणवाद की पुनर्स्थापना करना है

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।  संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की सोशल मीडिया फेसबुक पर एक ऐसी तस्वीर पोस्ट की गई है जिसमें कुछ लोग उनकी पूजा-अर्चना कर रहे है। यह फोटो सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हो रही है। जाने-माने अंतर्राष्ट्रीय शोधार्थी और सामाजिक कार्यकर्ता संजय श्रमन जोठे ने इस तस्वीर पर ऐतराज जताया है। उनका कहना है…

Read More

महामना रामस्वरूप वर्मा पोगापंथी के खिलाफ जंग छेड़ने वाले मानवतावादी-तार्किकतावादी राजनेता थे

नई दिल्ली। नीरज भाई पटेल ( नेशनल जनमत ब्यूरो )  उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जिले की राजपुर विधानसभा से 7 बार विधायक और चौधरी चरण सिंह के मुख्यमंत्रित्व काल में वित्त मंत्री रहे रामस्वरूप वर्मा उत्तर प्रदेश के इतिहास में एकमात्र उदाहरण हैं जिन्होंने फायदे का बजट पेश किया था। ब्राह्मणवाद के सवाल पर डा. राम मनोहर लोहिया तक…

Read More

जातिवाद: UP के नौकरशाहों की ट्रांसफर-पोस्टिंग की जिम्मेदारी सिर्फ ब्राह्मण ऑफीसर्स के हवाले !

नई दिल्ली। ( नेशनल जनमत की विशेष पड़ताल )  उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती अखिलेश यादव सरकार को जातिवादी कहकर मंचों से सबका साथ,  सबका विकास का  ढिढोरा पीटने वाली बीजेपी सरकार में जातिवाद का खुला खेल शुरू हो गया है। उत्तर प्रदेश में अजय सिंह बिष्ट उर्फ आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार बनते ही अधिकारियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग में  ब्राह्मणवाद और…

Read More

पेरियार की धरती पर ब्राह्मणवाद के ‘जनेऊ NEXUS’ के खिलाफ 7 अगस्त को सुअर का ‘जनेऊ संस्कार’

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो पेरियार रामास्वामी नायकर की धरती से एक क्रांतिकारी कदम की घोषणा हुई है. ब्राह्मणवादियों के जनेऊ नेक्सस या जनेऊ गठजोड़ के कारण गैरबराबरी और जातिवाद से ग्रसित समाज ने 7 अगस्त को सुअरों का उपनयन संस्कार करने यानि जनेऊ पहनाने की घोषणा की है। टीपीडीके संगठन का क्रांतिकारी कदम-  तमिलनाडु के संगठन Thanthai Periyar Dravidar Kazhagam…

Read More

वो लालू यादव को घेरने आएं हैं तो मैं चुप हूं क्योंकि मैं यादव नही हूं, ध्यान रखना अगला नंबर आपका ही है

नई दिल्ली।  नेशनल जनमत ब्यूरो। आज सारे देश में जमीन पर बहुजन आंदोलन जड़ जमा रहा है तो इन आंदोलनों को कुचलने के लिए ब्राह्मणवादी हमले भी तेज हो रहे हैं। कहीं इस देश में जातिगत जनगणना को सार्वजनिक करने के लिए आंदोलन हो रहा है तो कहीं ओबीसी के आरक्षण की सीमा को बढ़ाकर 60 फीसदी करने की मांग…

Read More

संवैधानिक आरक्षण को खत्म करने की बात तो करते हैं, मंदिरों में अवैध आरक्षण की बात नहीं करते

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो। युवा बहुजन सामाजिक चिंतक काव्या यादव सोशल मीडिया पर आरक्षण को लेकर विमर्श को आगे बढ़ाते हुए कहतीं हैं कि मनुवादी लोग आरक्षण को खत्म करने की बात करते हैं पर कभी जाति को खत्म करने की बात नहीं करते. आरक्षण विरोधी लोग भारतीय संविधान द्वारा प्रदत्त संवैधानिक आरक्षण का विरोध करते हैं पर ये…

Read More

सिर्फ न्यायपालिका में ही नहीं, शर्मा जी जैसे ब्रह्मचारी मोर देश के हर सिस्टम में नाच रहे हैं

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो। पिछले दिनों राजस्थान हाईकोर्ट के जज एम.सी शर्मा ने अपने रिटायरमेंट के आखिरी दिन अजीबोगरीब फैसले सुनाकर पूरी मीडिया का ध्यान आकर्षित किया था. जस्टिस मिश्रा ने कहा था कि मोर सेक्स से नहीं बल्कि आंसुओं से बच्चे पैदा करता है. मोर ब्रह्मचारी पक्षी है इसलिए उसे भारत का राष्ट्रीय पक्षी बनाया गया है. इस…

Read More

जानिए ! अलग देश की मांग द्रविड़नाडू का ब्राह्मणवाद और पेरियार से क्या है कनेक्शन

नई दिल्ली। नीरज भाई पटेल  केन्द्र सरकार की गलत नीतियों और पीएम नरेन्द्र मोदी की देश की विभिन्न विचारधाराओं को एक साथ लेकर ना चल पाने की नाकामी का परिणाम है, द्रविड़नाडु की मांग. द्रविड़नाडु की मांग ने कई साल बाद फिर से सर उठाया है. द्रविड़नाडु के रूप में भारत के चार राज्य मांग रहे हैं भारत से आजादी.…

Read More
Share
Share