You are here

बाबा साहेब को पढ़े बिना उनको पूजने की प्रेरणा देना-ताबीज लटकाना उनका ब्राह्मणीकरण करना है !

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। हमारे समय में और खासकर आजादी के इतने सालों बाद जबकि राजनीतिक परिवर्तन और सामाजिक-आर्थिक विकास की दिशा में बहुत सारा श्रम और समय लगाया जा चुका है, ऐसे समय में आंबेडकर को लेकर बात करना बहुत जरुरी और प्रासंगिक होता जा रहा है. गांधीवाद का सम्मोहन या तो टूट चुका है या वह अपना…

Read More
Share
Share