You are here

JNU में सामाजिक न्याय के पुरोधा सांसद शरद यादव को पहले ‘सोशल जस्टिस अवार्ड’ से नवाजा गया

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  जाति संगठन दलित-पिछड़ों की एकता में बाधक है। ये समय दलित-पिछड़ों के एक होने का है, लेकिन एक राजनीति के लिए नहीं बल्कि दिल  से जुड़ना है। एक दूसरे की सांझा तकलीफों के लिए सड़क पर उतरना है। जेडीयू से राज्यसभा सांसद और सामाजिक न्याय के योद्धा शरद यादव ने ये बातें जेएनयू में आयोजित…

Read More
Share
Share