You are here

JNU में आज रात ‘मनुस्मृति दहन’ करके महामना रामस्वरूप वर्मा को याद करेंगे सामाजिक न्याय के साथी

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  अर्जक संघ के संस्थापक महामना रामस्वरूप वर्मा का मानना था कि सामाजिक चेतना से ही सामाजिक परिवर्तन होगा, सामाजिक परिवर्तन के बगैर राजनैतिक परिवर्तन सम्भव नहीं। अगर येन केन प्रकारेेण राजनैतिक परिवर्तन हो भी गया तो वह ज्यादा दिनों तक टिकने वाला नहीं होगा। रामस्वरूप वर्मा सामाजिक सुधार के पक्षधर नहीं थे, वे सामाजिक परिवर्तन…

Read More

मायावती ने दिए अखिलेश के साथ जाने के संकेत, सामाजिक न्याय के नाम पर विपक्षी एकता की अपील

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  बसपा अध्यक्ष मायावती ने बदली राजनीतिक परिस्थितियोे के हिसाब से अपनी चिरप्रतिद्वंदी रही समाजवादी पार्टी यानि अखिलेश यादव के साथ जाने के भी संकेत दिए हैं। इसे प्रदेश में महागठबंधन की कोशिशों से जोड़कर देखा जा रहा है। बहुजन समाज पार्टी ने मिशन 2019 के लिए विपक्ष को एकजुट रहने की अपील की है। विपक्षी…

Read More

बिहार राजनीति: भ्रष्टाचार व अनैतिकता सामाजिक न्याय की राजनीति का जरूरी चरित्र नहीं भटकाव है

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  बिहार में सामाजिक न्याय के नाम पर बना महागठबंधन टूटने के बाद सामाजिक न्याय की राजनीति के पुरोधाओं ने एक स्वर में नीतीश कुमार के कदम को आत्मघाती कदम बताया। भावुकता में लोगों ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर लालू यादव की तस्वीर भी लगा दी। इसी बीच एक तबका ऐसा भी है जो सामाजिक न्याय…

Read More

OBC छात्र हितों के लिए संघर्ष करने वाले वाले दिलीप यादव की पीएचडी पर, JNU प्रशासन की रोक

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय में पीएचडी समेत अन्य परीक्षाओं में इंटरव्यू में होने वाले भेदभाव को रोकने और जेएनयू में किसी भी ओबीसी प्रोफेसर की नियुक्ति ना होने की मांग को लेकर प्रदर्शन करने वाले सामाजिक न्याय के योद्धा दिलीप यादव को जेएनयू प्रशासन ने अब पीएचडी पूरी करने से रोक दिया है। इसे भी…

Read More

जातिवार जनगणना के आंकड़े घोषित करने की मांग, 25 को विधानसभा का घेराव करेगी RVCP

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो। छात्र हितों की लड़ाई में अग्रणी भूमिका निभाने वाले छात्र संगठन  राष्ट्रीय विद्यार्थी चेतना परिषद  ने देवरिया जिले में आयोजित एक छात्र सम्मेलन में मोदी-योगी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि मोदी और योगी सरकार की छात्र विरोधी नीतियों के कारण परिषद के छात्रों को आंदोलन के लिए सड़कों पर उतरना पड़ेगा। राष्टीय विद्यार्थी…

Read More

पीएम मोदी के ‘न्यू इंडिया’ के तमाशे ने ‘महान भारत’ के मूल्यों को संकट में डाल दिया है-तेजस्वी यादव

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो। जबसे केन्द्र में पीएम मोदी की सरकार बनी हैं आतातई ताकतों ने देश को अपनी आतंकी घटनाओं से दहला दिया है. चारों तरफ गाय के नाम पर कहीं धार्मिक मान्यता के नाम पर लोगों की हत्याऐं की जा रही हैं. कहीं विरोधी विचारधारा के लोगों को जेल में डाला जा रहा है या फिर उनकी…

Read More

आरक्षण-रोजगार पर मोदी सरकार के हमले के विरोध में मधेपुरा में सामाजिक न्याय मार्च कल

नई दिल्ली/पटना। नेशनल जनमत ब्यूरो । यूजीसी यानि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग. उच्च शिक्षा में आने वाले स्टूडेंट्स के लिए इस संस्थान के एक-एक फैसले का बहुत महत्व होता है. ऐसे ही यूजीसी के कुछ फैसलों से छात्र-छात्राएं आहत हैं. उनको लग रहा है कि बड़े ही सुनियोजित तरीके से उनको नुकसान पहुंचाने के लिए सोची समझी रणनीति के तहत यूजीसी…

Read More

क्या संघी ना होने की वजह से वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश को छोड़ना पड़ा राज्यसभा टीवी

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो वरिष्ठ पत्रकार और सामाजिक चिंतक उर्मिलेश उर्मिल के राज्य सभा टीवी चैनल को छोड़ने की खबर उनके प्रशंसकों के बीच तेजी से फैली. अब उनके तमाम प्रशंसक मांग कर रहे हैं कि उर्मिलेश जी को ये जरूर बताना चाहिए कि उन्हें राज्यसभा टीवी क्यों छोड़नी पड़ी. राज्य सभा टीवी पर उनके शो मीडिया मंथन का…

Read More

शादी के कार्ड पर यादव जी का सामाजिक न्याय, सोशल मीडिया में हुआ वायरल

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  लखनऊ यूनिवर्सिटी के शोध छात्र सुरेश यादव सत्यार्थी के विवाह का आमंत्रण- पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. इस कार्ड की खासियत ये है कि इस पर हिंदू देवी-देवताओं के स्थान पर बहुजन समाज के नायकों विरसा मुंडा, पेरियार रामास्वामी, बाबा साहब अम्बेडकर, राष्ट्रपिता ज्योतिबा फुले, राष्ट्रमाता सावित्री बाई फुले, पेरियार ललई सिंह…

Read More

आखिर किसान नेता हनुमान बेनीवाल से क्यों खौफ खाती है वसुंधरा सरकार

नई दिल्ली। नीरज भाई पटेल  हनुमान बेनीवाल जैसे निर्दलीय विधायक के कद और बीजेपी-कांग्रेस जैसी पार्टियों का उनसे खौफ खाने का कारण जानने के लिए एक साल पीछे किसान हुंकार महारैली तक जाना होगा. इस महारैली में जाट, मीणा, गुर्जर, मेघवाल, मुसलमान, दूसरी तमाम जातियाँ और यहाँ तक की आर्थिक रूप से कमजोर सवर्ण भी बड़ी संख्या में एकजुट हुए…

Read More
Share
Share