You are here

अंतिम सांस तक सामंतवाद की कब्र खोदते रहे बिहार लेनिन बाबू जगदेव प्रसाद कुशवाहा

लखनऊ। (नेशनल जनमत ब्यूरो) जिस लड़ाई की बुनियाद आज मै डाल रहा हूँ, वह लम्बी और कठिन होगी. चूंकि मै एक क्रांतिकारी पार्टी का निर्माण कर रहा हूँ इसलिए इसमें आने-जाने वालों की कमी नहीं रहेगी परन्तु इसकी धारा रुकेगी नहीं. इसमें पहली पीढ़ी के लोग मारे जायेगे, दूसरी पीढ़ी के लोग जेल जायेगे तथा तीसरी पीढ़ी के लोग राज…

Read More
Share
Share