You are here

3 महीने में ही बदल गए 3 ADG लॉ एंड ऑर्डर, नरेश उत्तम पटेल बोले सिर्फ तबादलों से नहीं रुकेंगे अपराध

नई दिल्ली। नेशनल  जनमत ब्यूरो 

यूपी में सीएम योगी आदित्यनाथ की सरकार बने सिर्फ तीन महीने हुए हैं लेकिन इन तीन महीनों में प्रदेश की काननू व्यवस्था सुधरने की बजाए लगातार खराब होती जा रही है। दूसरी तरफ सरकार कानून व्यवस्था सुधारने के नाम पर पुलिस अधिकारियों को ताश की पत्तों की तरह फेंट रही है। कल ही एडीजी कानून व्यवस्था आदित्य मिश्रा की को हटाकर तीन महीन में तीसरे पुलिस अधिकारी को ये जिम्मेदारी सौंपी गई।

तीन महीने में तीन ADG( LO)- 

दलजीत  चौधरी सरकार बनने के समय थे।

आदित्य मिश्रा को 21 अप्रेल को बनाया गया।

मेरठ क्षेत्र के एडीजी आनंद कुमारलो 4 जुलाई को बनाए गए।

इतना ही नहीं अभी तीन दिन पहले ही 1 जुलाई को 244 डिप्टी एसपी के ट्रांसफर किए गए थे। अब चार जुलाई को 44 आईपीएस बदल दिए गए।

इसे भी पढ़ें-सामाजिक न्याय के पुरोधा सांसद शरद यादव को जेएनयू में दिया जाएगा अवार्ड फ़ॉर सोशल जस्टिस

सपा प्रदेश अध्यक्ष ने उठाए सवाल- 

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने लगातार हो रहे ट्रांसफर पर कहा कि थोक में तबादले कर देने से प्रदेश की कानून व्यवस्था में कोई सुधार होने वाला नहीं है। श्री पटेल ने सवाल उठाते हुए कहा कि तीन महीने ही हुए हैं सरकार को बने हुए इतने में ही तीन एडीजी कानून व्यवस्था बदलने पड़ गए। सरकार अपनी नाकामी छुपाने के लिए ट्रांसफर तो करती जा रही है लेकिन इससे अधिकारियों के मनोबल पर भी असर पड़ रहा है।

जब सत्ता के लोग ही गुंडागर्दी पर उतारू हैं तो कैसे सुधरेगी कानून व्यवस्था- 

नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि ज्यादातर अपराधों में सत्ता से जुड़े लोगों के नाम सामने आ रहे हैं। सहारनपुर में एसएसपी के घर हमला करने के मामले में बीजेपी सांसद राघवलखन पाल शर्मा की गिरफ्तारी ना होने से सत्ताधारी गुंडों का मनोबल बढ़ रहा है जबकि अधिकारियों का मनोबल नीचे आ रहा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद हो रहे अपराधों में भगवाधारी संगठनों से  जुड़े लोगों का हाथ होने की बात सामने आ रही है।

इसे भी पढ़ें- भगवा रंग में रंगे यूपी के अधिकारी का लिखित आदेश, बीजेपी नेताओं का सम्मान करो वर्ना कड़ी कार्रवाई होगी

हिंदु युवा वाहिनी जैसे संगठनों पर नकेल कसे सीएम- 

उन्होंने कहा कि सीएम आदित्यनाथ का संगठन हिंदु युवा वाहिनी इन दिनों खासी चर्चा में है। कहीं इससे जुड़े लोग थाने पर कब्जा कर रहे हैं कहीं अपराधी को छुड़ाने के लिए पुलिस की बर्दी फाड़ दे रहे हैं। बरेली से तो हिन्दु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं पर लड़की को जिंदा जला देने की खबर भी आई थी. इन लोगों पर नकेल कसे बिना सिर्फ तबादलों से कुछ नहीं होने वाला।

Related posts

Share
Share