You are here

गुजरात का रामराज: दलित की स्टाइलिश मूंछों से नाराज सवर्णों ने की पिटाई, मामला दर्ज

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद को पिछड़ी जाति का रहनुमा, दलितों का हितैषी कह लेंं, भेदभाव मिटाने की चाहे कितनी भी वकालत कर लें लेकिन ऐसा होता दिखाई नहीं पड़ रहा है। पीएम के अपने ही गृह राज्य में में दलितों का उत्पीड़न लगातार जारी है।

ताजा घटना गुजरात की राजधानी गांधीनगर से महज 15 किमी दूर काकोल तालुका में लिंबोदरा गांव की है। जहां एक दलित को सवर्णों ने इसलिए पीट दिया क्योंकि उसने स्टाइलिश मूछें रखी हुईं थीं।

घटना बीते 25 सितंबर की है जब पीयूष अपने चचेरे भाई दिगांत महेरिया के साथ गरबा देख कर घर वापस आ रहे था। रास्ते में खड़े सवर्ण युवकों ने पीयूष की मूंछे देखकर ताने मारे, कुछ लोगों ने उन्हें जातिसूचक गालियां भी दीं।

पीयूष ने बताया जहां से हम निकल रहे थे, ‘वहां बहुत अंधेरा था, हम उन्हें देख नहीं सकते थे। जहां से गालियों की आवाज आ रहीं थीं हम उस दिशा में गए। वहां दरबार समुदाय के तीन युवक थे। हमने झगड़े से बचने की कोशिश की और वहां से निकल आए, लेकिन तीनों झगड़े के ही मूड में थे, उन्होंने हमारा पीछा किया घर तक आ गए और दोबारा गालियां देने लगे।

पीयूष ने कहा, उन दंबग सवर्णों ने पहले दिगांत को पीटा फिर मुझे भी मारा। वो बार-बार पूछ रहे थे कि नीची जाति के होने के कारण में मैं मूछें कैसे रख सकता हूं।

इस मामले में आरोपियों के खिलाफ कालोल पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 504 और 114 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली गई है। आरोपियों की पहचान मयूर सिंह वघेला, राहुल विक्रमसिंह और अजीत सिंह वघेला के रूप में हुई।

मामले की जांच एसपी स्तर के अधिकारी द्वारा की जा रही है।

हार्दिक पटेल-राहुल गांधी कनेक्शन बनाम उत्तर प्रदेश के दो पटेल युवा तुर्कों का संघर्ष

भारत के सभ्य होने की राह में धर्म, अध्यात्म, अंधविश्वास, कर्मकांड सबसे बड़ी बाधा है ! (पार्ट-1)

गुजरात के व्यापारियों का अभियान ‘कमल का फूल, हमारी भूल’ पत्रकार ने शेयर किया तो फेसबुक ने किया ब्लॉक

4 लाख करोड़ के कर्ज में डूबी गुजरात की BJP सरकार, युवाओं को सस्ता लोन का वादा छलावा- हार्दिक पटेल

BJP के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा बोले, भारत को गरीब बनाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं अरुण जेटली

चीफ जस्टिस बनने से रोकने के लिए जयंत पटेल का कोलेजियम ने किया ट्रांसफर, तो थमा दिया इस्तीफा

Related posts

Share
Share