You are here

कानून व्यवस्था पर सदन में बोले अखिलेश यादव, चलो हम गुंडे ही सही, इस सरकार को क्या कहेंगे?

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो 

प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों और शिक्षामित्रों पर लाठीचार्ज के विरोध में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विधान परिषद में वर्तमान की भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हम गुंडे ही सही, लेकिन वर्तमान की सरकार को क्या कहेंगे।

इसे भी पढ़ें-शहादत पर सियासत के बीच, 18 साल से अनावरण के इंतजार में है कारगिल शहीद राकेश यादव की प्रतिमा

प्रदेश में बढ़ रहे अपराध पर तंज कसते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में जिस तरह की कानून व्यवस्था है वो किसी से भी छिपी नहीं है। सीएम योगी की सरकार में हुई हिंसक घटनाओं का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि हमें गुंडों की सरकार कहा जाता था, चलो हम गुंडे हैं, लेकिन अब जो सरकार है उसे क्या कहें?

यूपी का विकास रोकने वाला है ये बजट-

अखिलेश यादव ने विधान परिषद में बजट पर अपने विचार व्यक्त किए और इसे यूपी का विकास रोकने वाला बजट करार दिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने विकास रोकने वाला बजट पेश किया है।

इसे भी पढ़ें-लाठीचार्ज के बाद शिक्षामित्रों को आई अखिलेश की याद, बोले योगी सरकार ने हमें जीते जी मार दिया है

केंद्र पर साधा निशाना-

अखिलेश यादव ने सपा पर केंद्र द्वारा कराई जा रही सीबीआई जांच का जवाब देते हुए कहा कि साबरमती से ज्यादा बेहतर गोमती नदी बन रही थी, इसलिए सरकार जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि आप सीबीआई से हमें डराते हो, केंद्र में जिसकी सरकार होती है, वह सीबीआई का उपयोग करता है।

समाजवादी शब्द संविधान से कैसे हटाएंगे?

अपने कार्यकाल में शुरू की गई कई समाजवादी योजनाओं से योगी सरकार द्वारा ‘समाजवादी’ शब्द हटाए जाने के मामले में अखिलेश ने कहा कि सरकार को समाजवादी शब्द से परेशानी है। सरकार ने 55 लाख महिलाओं से पेंशन छीनी है। योजनाओं से समाजवादी शब्द हटाया, लेकिन इसे संविधान से कैसे हटाएंगे?

इसे भी पढ़ें-गोरखपुर दंगा मामले में खुद को बचाने के लिए अपनी सरकार की पूरी ताकत झोंक दी है CM आदित्यनाथ ने !

विकास कार्यों की रफ्तार रोकी-

अखिलेश यादव ने विधानपरिषद में विकास कार्यों की रफ्तार रोकने पर भी सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि नेता सदन बताएं कि लखनऊ मेट्रो की रफ्तार किसने रोकी। उन्होंने आगे पूछा कि सरकार लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे से बड़ी सड़क कब बनाएगी?

Related posts

Share
Share