You are here

सोशल मीडिया पर विकलांग किसान की फोटो देखकर अखिलेश यादव ने घर पर भिजवा दी बैलों की जोड़ी

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो।

मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों से देश भर में किसानों की आत्महत्या जारी है। हालात ये है कि किसान अब खेती छोड़कर शहरों में मजदूरी करने को मजबूर हो रहे हैं। एक अनुमान के मुताबिक किसानों खेती से किसानों की कमाई 10 रूपए प्रतिदिन भी नही हो रही है। पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री बनने से पहले अपनी रैलियों में किसान की फसल की लागत का डेढ़ गुना मूल्य देने का वादा किया था पर सत्ता में आने के बाद वो वादा भी 15 लाख रूपए देने वाले वादे की ही तरह जुमला ही साबित हुआ.

इसे भी पढ़ें…पीएम मोदी की विदेश नीति भी हो गई फेल, चीन ने रोकी कैलाश मानसरोवर यात्रा, फंसे श्रृद्धालु

सपा अध्यक्ष के निर्देश पर पार्टी नेता अतुल प्रधान पहुंचे किसान की मदद करने- 

 सोशल मीडिया पर यह फोटो वायरल हो रही थी। जिसमें विकलांग किसान सीताराम एक तरफ हैं तो दूसरी तरफ एक बैल है.

इसी फोटो का संज्ञान लेते हुए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बिजनौर जिले के इस किसान की मदद करने के लिए सरधना सीट से चुनाव लड़ चुके सपा नेता अतुल प्रधान गुर्जर को निर्देश दिया। अतुल प्रधान ने पार्टी अध्यक्ष के निर्देश पर किसाने के घर पहुंचकर विकलांग किसान को तुरंत एक जोड़ी बैल, हल और उससे संबंधित जरूरी उपकरण उपलब्ध कराए. सपा नेता के इस कदम की इलाके में खूब चर्चा हो रही है।

इसे भी पढ़ें…बीजेपी नेता की गुंडई पर बोली लेडी सीओ, भाजपा के गुंडे हो, कही भी हिंदू -मुस्लिम दंगा करा सकते हो

गरीब किसान की स्थिति हो गई है खराब, नहीं मिल रही कोई सरकारी मदद- 

समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के मार्ग निर्देशन पर समाजवादी छात्रसभा पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अतुल प्रधान ने बिजनौर के सलामाबाद गांव पहुंचकर पीड़ित दिव्यांग किसान सीताराम की मदद की । अतुल प्रधान के अनुसार सीताराम के परिवार की स्थिति भयावक और झकझोर देने वाली थी । परिवार को केन्द्र या राज्य सरकार से किसी भी तरह की सरकारी मदद नहीं मिल रही है। परिवार का लालन पोषण का स्रोत मात्र खेती था । प्रधान के मुताबिक राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कहा करते हैं कि’ मदद वो करो जो व्यक्ति को सशक्त करें ‘इसी आधार पर मैने किसान परिवार को दो बैल और हल मय उपकरणों सहित आर्थिक मदद स्वरूप प्रदान किया। सारे गांव में अतुल प्रधान द्वारा दान किए गए इन बैलो की चर्चा है.

Related posts

Share
Share