You are here

छेड़छाड़ के गढ़ बन गए हैं UP के विश्वविद्यालय, अब AU में छात्रा से छेड़खानी, छात्र निष्कासित

नई दिल्ली/इलाहाबाद, नेशनल जनमत ब्यूरो।

‘बहुत हुआ नारी पर वार, अबकी बार भाजपा सरकार’ जुमला देकर केन्द्र और यूपी में आई मोदी-योगी की सरकारों में महिला संबंधी अपराध घटने के बजाए बढ़ गए हैं। उत्तर प्रदेश के शैक्षणिक संस्थानों में लगातार इस तरह के मामले सामने आ हैं।

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय और कानपुर आईआईटी में छात्रा के साथ हुई छेड़छाड़ का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ है। इसके बावजूद देश के विश्वविद्यालयों में छात्राओं के उत्पीड़न के मामले थम नहीं रहे हैं। ताजा घटना इलाहाबाद विश्वविद्यालय की है।

बीएचयू जैसी शर्मनाक घटना के बाद ‘पूरब के आक्सफोर्ड’ कहे जाने वाले इलाहाबाद विश्वविद्यालय में भी एक छात्रा से भी छेड़छाड़ का मामला आया है। जहां पर एक लड़की के साथ विश्वविद्यालय में पढ़ रहे छात्र ने हरकत की।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर रामसेवक दुबे के मुताबिक, छेड़छाड़ के प्रकरण में शिकायत मिलने के बाद आरोपी छात्र सत्यम सूर्यवंशी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए विश्वविद्यालय से निष्कासित कर दिया गया।

UP में असुरक्षित बेटियां: अब UGC ने भी माना छेड़छाड़ की घटनाओं में UP के विश्वविद्यालय अव्वल

वहीं विश्वविद्यालय प्रशासन ने बताया कि छात्र को फोन कर उसे परिजनों के साथ विश्वविद्यालय के प्रशासनिक अधिकारी के सामने उपस्थित होकर कारण बताने का नोटिस दिया गया था लेकिन वह अभी तक आया नहीं।

चीफ प्रॉक्टर ने बताया, पीड़ित छात्रा ने छात्र के विरुद्ध छेड़खानी की लिखित शिकायत दर्ज कराई। लड़की के शिकायती पत्र के आधार पर छात्र को विश्वविद्यालय से निष्कासित करने का नोटिस जारी कर दिया गया।

चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर रामसेवक ने आगे कहा, छात्र को नोटिस जारी करने के साथ-साथ उसका नामांकन निरस्त करने की संस्तुति कुलपति को भेजी गई है।

पुलिस के अनुसार घटना बीते 26 सितंबर की है। जब पीड़ित लड़की ने छात्र के खिलाफ कर्नलगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। बताते चलें बीएचयू घटना के बाद हाल ही में आईआईटी कानपुर में भी लड़कियों के साथ छेड़छाड़ का मामला आ चुका है।

उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालयों में छात्राओं के साथ छे़ड़छाड़ के मामले में देश भर में नंबर 1 है। हाल ही में यूजीसी ने राष्ट्रीय अपराध रेकॉर्ड ब्यूरो के हवाले से विश्वविद्यालयों में हो रही छेड़खानी पर एक रिपोर्ट पेश की थी। यूजीसी के मुताबिक देश के विश्वविद्यालयों में होने वाली हर चार में से एक छेड़खानी की एक घटना उत्तर प्रदेश के विश्वविद्यालयों से जुड़ी होती है।

राजस्थान का रामराज: दिल्ली की महिला के साथ 23 लोगों ने किया बलात्कार, 6 गिरफ्तार

भारत के सभ्य होने की राह में रोड़ा बन चुके अध्यात्म, अंधविश्वास, कर्मकांड का इलाज कैसे संभव है? (पार्ट-2)

गुजरात का रामराजः दलित की स्टाइलिश मूंछों से नाराज सवर्णों ने की पिटाई, मामला दर्ज

हार्दिक पटेल-राहुल गांधी कनेक्शन बनाम उत्तर प्रदेश के दो पटेल युवा तुर्कों का संघर्ष

गुजरात के व्यापारियों का अभियान ‘कमल का फूल, हमारी भूल’ पत्रकार ने शेयर किया तो फेसबुक ने किया ब्लॉक

4 लाख करोड़ के कर्ज में डूबी गुजरात की BJP सरकार, युवाओं को सस्ता लोन का वादा छलावा- हार्दिक पटेल

चीफ जस्टिस बनने से रोकने के लिए जयंत पटेल का कोलेजियम ने किया ट्रांसफर, तो थमा दिया इस्तीफा

 

Related posts

Share
Share