You are here

अंबेडकर विश्वविद्यालय के कुलपति के पत्र ने खोली राजधानी लखनऊ की कानून व्यवस्था की पोल

नई दिल्ली/लखनऊ। नेशनल जनमत ब्यूरो 

महज तीन महीने की बीजेपी सरकार के कार्यकाल में ही तीन एडीजी कानून व्यवस्था बदलने के चलते आरोपों का सामना कर रही योगी सरकार के लिए एक कुलपति के लिखे पत्र और मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। लखनऊ स्थित बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर केन्द्रीय वि.वि. के कुलपति महोदय ने कानून व्यवस्था की पोल खोलते हुए अपने विश्वविद्यालय की महिला कर्मचारियों के लिए एक आदेश जारी किया है।

इसे भी पढ़ें- उच्चकोटि के गौभक्त पीएम मोदी की सरकार ने बूचड़खानो को बांट दी 68 करोड़ की सब्सिडी

इन आदेशों से संभल जाएगी कानून व्यवस्था?

बाबासाहब भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्विद्यालय लखनऊ के कुलपति डॉ. रणवीर चंद्र सोबती द्वारा महिला कर्मचारियों और अधिकारियों को शाम 6 बजे के बाद कैंपस में न रुकने का आदेश देने से नया बखेड़ा हो गया है। कुलपति द्वारा जारी किए गए पत्र मेें महिलाओं की सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्हे हिदायत दी गई है कि 6 बजे के बाद कैंपस में अगर रुकना पड़ रहा है तो उसके बारे में पूर्व सूचना देनी होगी। इस पत्र पर  वूमेन एक्टीविस्टों द्वारा प्रतिक्रिया आने के बाद यूनिवर्सिटी एडमिनिस्ट्रेशन उसका बचाव कर रहा है।

इसे भी पढ़ें- 3 महीने में ही बदल गए 3 एडीजी कानून व्यवस्था नरेश उत्तम पटेल ने बोले सिर्फ तबादलों से नहीं रुकेंगे अपराध

महिला अधिकारों का हनन है ये- 

विश्वविद्यालय में काम करने वाली महिला कर्मचारियों और अधिकारियों ने इस नियम पर विरोध जताया है। वहीं महिला अधिकारों के लिए काम करने वाले संगठनों ने कहा कि एक तरफ तो पुरुष और महिलाओं में बराबरी की बात करते हैं दूसरी तरफ इस तरह के प्रतिबंध लगाते हैं। सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकार और प्रशासन की है। आप अपनी नाकामी का ठीकरा महिलाओं की आजादी को छीनकर क्यों लादना चाहते हैं।

सवाल ये भी है कि राजधानी लखनऊ में ही महिलाओं को विश्वविद्यालय के अंदर छह बजे के बाद सुरक्षा का खतरा है तो पूरे प्रदेश की कानून व्यवस्था का क्या हाल होगा?

इसे भी पढ़ें- भगवा रंग में रंगे यूपी के अधिकारी का लिखित आदेश, बीजेपी नेताओं का सम्मान करो वर्ना कड़ी कार्रवाई होगी

लेटर को लेकर यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता गोविन्द पांडेय का कहना है कि इसमें कहीं भी महिलाओं की स्वतंत्रता खत्म करने की बात नहीं कही गई है ।बीते वक्त कैम्पस और आस पास की कुछ घटनाओं को देखते हुए ये लेटर विश्वविद्यालय के वीसी ने इस लेटर को जारी किया है ।

Related posts

Share
Share