You are here

यूपी की AMBULANCE सेवा बीमार, मिर्जापुर में भाई के कंधे पर ही बहिन ने तोड़ा दम

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो।

यूपी में भाजपा सरकार बनते ही प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाऐं बदहाल होती जा रही हैं। पिछली अखिलेश यादव सरकार के दौरान लोगों के लिए राहत देने वाली समाजवादी एम्बुलेंस सेवा भाजपा की सरकार बनते ही बदहाल होती जा रही है।

ताजा मामला मिर्जापुर के सीएचसी मड़िहान का है। यहां भाई इलाज के लिए बहन को कंधे पर लेकर दौड़ता रहा, लेकिन एम्बुलेंस नहीं आई। अंत में भाई के कंधे पर ही बहन की मौत हो गई। वह लाश को कंधे पर ही टांगे घर चला गया। हालत ये है कि लाश को घर तक पहुंचाने के लिए भी एम्बुलेंस की व्यवस्था नहीं की गई।

इसे भी पढ़ें…अमरीका में लगे मोदी गो बैक के नारे, लोगों ने कहा भारतीय आतंकवाद का चेहरा हैं मोदी

खबरों के मुताबिक, तहसील क्षेत्र के ददरा पहाड़ी की सावित्री (22) पत्नी शिवकुमार मायके जुड़िया गांव में रह रही थी। आठ माह पूर्व सरकारी अस्पताल में उसने बच्चे को जन्म दिया था। उसी समय से वह बीमार रहने लगी थी।

धीरे-धीरे उसकी तबीयत अधिक खराब होने पर बुधवार की सुबह घर वाले उसे गांव के ही एक डॉक्टर के पास ले गए। वहां उसने सूई लगाई, तो कुछ देर बाद सावित्री बेहोश हो गई। इसके बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।

इसे भी पढ़ें…स्वंमभू राष्ट्रवादी zee news मालिक सुभाष चंद्रा के बेटे ने देश को लगा दिया 11 हजार करोड़ रूपए का चूना

वहां डॉक्टर कौशल कुमार ने हालत गंभीर देख उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। महिला को ले जाने के लिए घर वालों ने 108 नंबर पर फोन कर एंबुलेंस बुलाई, तो एंबुलेंस कर्मी ने दो घंटे बाद आने के लिए कहा।

आपको बता दें कि अभी कुछ दिन पूर्व बहराइच में भी एक युवक ने एंम्बुलेंस के अभाव में दम तोड़ दिया था।

Related posts

Share
Share