You are here

किसी के घर जाने से पहले अमित शाह क्यों बनवाते हैं लग्जरी टॉयलेट

नई दिल्ली, नेशनल जनमत,ब्यरो। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का एक गरीब के घर लग्जरी टॉयलेट बनबाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अमित शाह पर आरोप है कि गुरजात में वे एक आदिवासी के परिवार पर खाना खाने जाने वाले थे , जिसकी तैयारी की लिए  आदिवासी के घर पर एक गैस सिलेंडर और चूल्हा और एक लग्जरी टॉयलेट बनबाया जा रहा है.

गुजरात में विधानसभा चुनाव होने है जिसको देखते हुए भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह बुधवार (31 मई) को गुजरात में होंगे इतना ही नहीं अमित शाह देवलिया गांव में एक आदिवासी परिवार के घर पर खाना भी खाएंगे। लेकिन अमित शाह के पहुंचने से पहले ही आदिवासी परिवार के घर LPG सिलेंडर और स्टोव और घर पर नया टॉयलेट बनवाने का मामला सामने आ रहा है।

अमित शाह
photo- जनसत्ता

ख़बरों के अनुसार, अमित शाह इस परिवार के घर दोपहर का भोजन करेंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वरिष्ठ स्थानीय भाजपा नेता और अनुसूचित जनजाति से आने वाले राथवा के घर में अमित शाह के आगमन को लेकर उत्सव जैसा माहौल है। भाजपा के स्थानीय नेता नियमित तौर पर अमित शाह के आगमन की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं ताकि सब कुछ सही रहे।

राथव के चचेरे भाई मलखाभाई राथवा ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि, “हमें अमित शाह जी के आगमन के बारे में 10 दिन पहले ही बता दिया गया था। यही कारण है कि मेहमानों के लिए टॉयलेट और वाशबेसिन बनवाने के अलावा हमनें कोई विशेष प्रबंध नहीं किया है।”

बताया जा रहा है कि उनकी ग्राम पंचायत ने एक दिन पहले ही टॉयलेट बनवाने का काम शुरू किया था और एक दिन में ही पूरा कर दिया। परिवार के अनुसार, उनके घर के पीछे पहले से ही एक टॉयलेट है लेकिन मेहमानों के लिए अलग से सामने नया टॉयलेट बनवाया गया है। साथ ही राथवा के घर के सबसे बड़े कमरे में अमित शाह के लंच के लिए कुर्सी और टेबल लगाए गए हैं। अमित शाह की आगवानी की तैयारी का पूरा काम उनके घरवाले और दूसरे भाजपा नेता देख रहे हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शहीद के घर यात्रा से पहले उनके घर में एसी-सोफा लगाये गये थे, जिसे योगी आदित्यनाथ के जाने के तुरंत बाद हटा दिये गये थे। इतना ही नहीं उसके बाद भी कुशीनगर के मैनपुर कोट गांव की मुसहर दलित बस्ती का निरीक्षण करने से पहले गांव के लोगों को साबुन और शैंपू से नहाकर आने के लिए कहा गया और इसके लिए वहां के लोगों में साबुन और शैंपू वितरित भी किए गए थे। साथ ही अधिकारियों ने पूरी बस्ती में साबुन-शैम्पू और सेंट बांटे और कहा कि तुरंत नहा-धोकर तैयार हो जायें, तभी सीएम योगी से मिलने दिया जाएगा।

Courtesy: Janta Ka Reporter

Related posts

Share
Share