You are here

अनुप्रिया के अपना दल (एस) की मंडल अध्यक्ष संतोषी वर्मा, पति जितेन्द्र पटेल की हत्या, कुर्मी समाज में आक्रोश

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो 

योगी सरकार में पिछड़े और दलित समुदाय में हो रहे हमलों से ओबीसी-एससी समुदाय के लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। कुर्मी समाज के लोंगों का कहना है कि सुशासन के नाम पर जिस सरकार को वोट दिया उसी मे हमारी नहीं सुनी जा रही.

इलाहाबाद में अनुज पटेल की हत्या को लेकर आक्रोश अभी थमा भी नहीं था कि कुछ दिन बाद उससे सटे फतेहपुर में दिलीप पटेल को गोली मार दी गई. इसका गुस्सा शांत हो पाता कि रायबरेली में सुमित पटेल फिर प्रतापगढ़ में अपना दल नेता के बेटे सूरज पटेल की हत्या कर दी गई। अब एक बार फिर अपना दल (एस) मंडल अध्यक्ष और उनके पति की हत्या की खबर इलाहाबाद से आ रही है।

उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सहयोगी पार्टी अनुप्रिया पटेल की अपना दल(एस) की मंडल अध्यक्ष और उनके पति की हत्या कर दी गई। इलाहाबाद के कलंदपुर गांव में मंडल अध्यक्ष संतोषी वर्मा और उनके पति जितेन्द्र पटेल की नृशंस हत्या बदमाशों ने उनके घर में घुसकर कर दी। घटनास्थल से पुलिस ने खून से सने रॉड और पत्थर बरामद किए हैं।

घटना के बाद पूरे प्रदेश में खबर आग की तरह फैल गई और सोशल मीडिया कुर्मी समेत सम्पूर्ण ओबीसी समाज में सरकार के रवैये के प्रति आक्रोश फैल गया।

बता दें कि अपना दल एस से सांसद अनुप्रिया पटेल केंद्र सरकार में स्वास्थ्य राज्यमंत्री हैं। घटना के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस आपसी रंजिश और राजनीतिक प्रतिद्वंदिता के साथ बाकी ऐंगल पर भी मामले की जांच कर रही है। अभी तक किसी की भी इस मामले में गिरफ्तारी नहीं हुई है।

घटना के बाद से ग्रामीणों में काफी गुस्सा है। लोगों ने मुख्य सड़क जाम कर दिया। साथ ही बड़ी संख्या में अपना दल के समर्थक और स्थानीय निवासियों ने हत्यारों को पकड़ने के लिए प्रदर्शन किया। अभी तक लाश का अंतिम संस्कार नहीं किया गया है और इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

कुर्मी समाज में सरकार के प्रति पनप रहा है असंतोष- 

इलाहाबाद में ब्राह्मणों द्वारा अनुज पटेल की पीट पीटकर हत्या, फतेहपुर में फार्मासिस्ट दिलीप पटेल की गोली मारकर हत्या और झांसी में पीतांबर पटेल के साथ ठाकुर समाज के लागों द्वारा की गई मारपीट अभद्रता, प्रतापगढ़ में अपना दल की ब्लाक प्रमुख कंचन पटेल बीजेपी मंत्री मोती सिंह द्वारा दी गई धमकी, रायबरेली मेे सुमित पटेल की हत्या के बाद पीड़ितों को ही जेल मेें ठूंस देने की घटना, प्रतापगढ़ में अपना दल नेता बांकेलाल पटेल के बेटे की हत्या और अब इलाहाबाद में पति-पत्नी की हत्या से कुर्मी समाज में सरकार के प्रति असंतोष बढ़ता जा रहा है.

पढ़े कुर्मी समाज के खिलाफ योगी सरकार में बढ़ते अपराध- 

सुमित पटेल को गोली मारने वाले सिंहों के बचाव में योगी पुलिस, 8 पीड़ित कुर्मियों को जेल में डाला

प्रतापगढ़: अपना दल नेता बांकेलाल पटेल के बेटे की हत्या, पुलिस के रवैये से कुर्मी समाज में आक्रोश

चल रहा मौतों का खेल, मारे जा रहे बेगुनाह पटेल….शायर मुज़म्मिल अय्यूब की झकझोर देने वाली नज़्म

अनुज पटेल की पीट पीटकर हत्या, आरोपी ब्राह्मणों की गिरफ्तारी ना होने से कुर्मी समाज में उबाल

सुमित पटेल को गोली मारने वाले ‘सिंहों’ के बचाव में योगी पुलिस, 8 पीड़ित कुर्मियों को ही ठूंसा जेल में

Related posts

Share
Share