You are here

यूपी में जारी है खनन माफियाओं का खूनी खेल, सुनील यादव की हत्या, भाई की हालत गंभीर

 नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो।

यूपी में योगी सरकार बने सौ दिन पूरे हो चुके हैं पर हत्या, लूट, बलात्कार, गुंडई, छिनैती में कोई कमी नहीं हो पाई है। हद तो ये है कि अखिलेश सरकार में खनन माफियाओं को पानी पी- पीकर कोसने वाली योगी सरकार में खनन माफियाओं का खूनी खेल बदस्तूर जारी है.

अब इसे अपराधियों की दबंगई कहें या अपराधियों की नजर में पुलिस और कानून का गिरता हुआ इकबाल लगातार संगीन वारदातों का ग्राफ बढ़ता जा रहा है । ताजा मामले में अयोध्या सीमा से सटे गोंडा क्षेत्र के कटरा इलाके में एक युवक की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई । वही उसके भाई को भी जख्मी कर दिया गया |

इसे भी पढ़ें- मनुवादियों ने अपनी गोमाता की सेवा करने की बजाए उसका भार साजिशन किसानों पर डाल दिया है

मृतक के भाई की माने तो घटना की पृष्ठभूमि बालू खनन से जुड़ी हुई नजर आ रही है और दोनों सरयू किनारे हो रहे अवैध बालू खनन में अपनी ड्यूटी कर घर लौट रहे थे | फिलहाल पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है |

कई दिनों से सुनील को मिल रही थी फोन धमकी –

मृतक सुनील का फइल फोटो

वारदात बीती रात करीब 11:00 बजे की है जब गोंडा के नवाबगंज थाना क्षेत्र के बालापुर गांव का रहने वाला सुनील यादव पुत्र बजरंगी प्रसाद और उसका भाई आकाश यादव पुत्र अवधेश कुमार यादव अपने घर जा रहे थे. कटरा स्टेशन के सामने दो मोटरसाइकिल पर सवार चार बदमाशों ने इन दोनों पर हमला कर दिया। हमले में अपराधियों ने जानलेवा हथियारों का इस्तेमाल किया जिसमें सुनील यादव की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसका भाई आकाश जख्मी हो गया ।

तत्काल घायल हालत में दोनों को अयोध्या के श्री राम चिकित्सालय लाया गया यहां पर सुनील को मृत घोषित कर दिया गया वहीं आकाश का इलाज चल रहा है।

इसे भी पढ़ें- सुनिए सीएम साहब, गर्ल्स फाइटर का दर्द, क्या रेप पीड़िता का साथ देकर प्रतीक्षा कटियार ने जुर्म कर दिया

पुलिस से कई बार शिकायत की थी सुनील ने- 

आकाश यादव ने बताया कि कई दिनों से उसके भाई सुनील को जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। वारदात के दिन भी सुबह वह नवाबगंज थाने में शिकायत लेकर गया था, लेकिन पुलिस वालों ने उनकी कोई बात नही सुनी क्योकि उनको भी यहां से माल मिलता हैं और जिसके बाद रात होते ही यह वारदात हो गयी |

पूरा है यूपी में कानू व्यवस्था का हाल- 

भले ही सीएम योगी 100 दिन के कामकाज पर खुद की पीठ ठोंक रहे हों लेकिन आंकड़े बता रहे हैं कि योगी सरकार के 100 दिन के कार्यकाल में यूपी में अपराध में 100 प्रतिशत से भी अधिक बढ़ोत्तरी हुई है. बीजेपी सांसद राघव लखनपाल शर्मा ने सहारनपुर के एसएसपी के घर पर हमला कर दिया, तो वहीं मुरादाबाद में बीजेपी नेता ने एक दरोगा को थाने में थप्पड़ जड़ दिया।

इसे भी पढ़ें- शिवकुमार बने यादव सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष, बोले आरक्षण पर हमले के विरोध में सड़क पर होगा प्रदर्शन

गोरखपुर से भाजपा विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल ने महिला एसपी को इस कदर डांटा कि उनके आंसू निकल आए। इसी तरह बुलंदशहर में भाजपा नेता महिला सीओ से भिड़ गए और महिला सीओ ने भाजपा नेताओं को दंगा कराने वाला तक कह दिया।

Related posts

Share
Share