You are here

एक जून से मुंबई-पुणे की सब्जी और दूध की सप्लाई बंद कर देंगे किसान !

मुम्बई। नेशनल जनमत ब्यूरो

किसानों की आत्महत्या के लिए बदनाम हो चुके महराष्ट्र में किसानों की कर्ज माफी की मांग जोर पकड़ती जा रही है.उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा कर्ज माफी की घोषणा करने के बाद देवेन्द्र फड़नवीस सरकार को उनके सहयोगी ही घेरने लगे हैं. महाराष्ट्र सरकार में सहयोगी शिवसेना के कर्ज माफी की मांग के बाद राजग के सहयोगी स्वाभिमानी सेतकारी संगठन ने किसानों की मांगों को लेकर मोर्चा खोल दिया है.

बीजेपी सरकार में बढ़ी हैं आत्महत्या-

महाराष्ट्र में देवेन्द्र फड़नवीस की अगुवाई में भाजपा की सरकार बनने के बाद किसानों की आत्महत्या और बढ़ गई है. जनवरी से अप्रैल के बीच में राज्य में 852 किसानों की आत्महत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है. इसके बाद से ही महाराष्ट्र में किसानों की कर्ज माफी की मांग जोर पकड़ती जा रही है.

एक जून से मुंबई और पुणे को सब्जी-दूध की सप्लाई बंद-

बदहाली से तंग आकर अब किसानों ने महाराष्ट्र सरकार को स्पष्ट चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांग नहीं मानी गई तो वो मुम्बई और पुणे जैसे बड़े शहरों की दूध और सब्जी की सप्लाई एक जून से बंद कर देंगे. किसानों की मांग है कर्जा माफ करो, उनके कृषि कार्यों के लिए बिजली फ्री दो उनकी फसल का किसानों की लागत का डेढ़ गुना न्यूनतम समर्थन मूल्य दो। किसानों की मांग के समर्थन में शेतकारी संगठन के नेता सांसद राजू शेट्टी ने 22 मई से 30 मई तक पुणे से मुम्बई की पदयात्रा शुरू कर दी है..

Related posts

Share
Share