You are here

‘राजनीतिक गौभक्त’ : केरल में सहकारी संस्था बनाकर गौमांस बेच रहे हैं बीजेपी पदाधिकारी

नई दिल्ली/केरल। नेशनल जनमत ब्यूरो

गाय संरक्षण के नाम पर देशभर में भगवाधारियों के उकसावे पर जहां दलितों और मुस्लिमों की पीट-पीटकर हत्या हो रही है, वहीं दूसरी तरफ केरल के त्रिसूर जिले में भारतीय जनता पार्टी  के नेताओं द्वारा बीफ बेचने के लिए एक सहकारी सोसाइटी बनाने की है। यह खबर एक मलयालम अखबार ने प्रमुखता से प्रकाशित की है।

बीजेपी जिलाध्यक्ष और अन्य नेता शामिल- 

रिपोर्ट के मुताबिक, सहकारी समिति का गठन त्रिसूर जिले के भाजपा जिलाध्यक्ष ए. नागेश, जिला सचिव टी. एस. उल्लास बाबू और बीएमएस जिला सचिव पी. वी. सुब्रमण्यम ने मिलकर किया है। यह संगठन मांस और मछली के खरीद-फरोख्त का काम करेंगी। खबर के अनुसार, इसके लिए सोसाइटी का एक ऑफिस थिरूवंपादय मंदिर के पास खोला गया है।

इसे भी पढ़ें-एक गैंगस्टर के एनकाउंटर को जाति सम्मान से जोड़ रहे हैं राजपूत, गांव में बीजेपी नेताओं के घुसने पर बैन

पूरी तैयारी के साथ बेचेंग मांस- 

सहकारी सोसायटी पशुओं के मांस को खुदरा और थोक रूप में बेचेगी। इतना ही नहीं सोसाइटी की योजना है कि मांस-संबंधित खाद्य सामग्री सुपरमार्केट में सप्लाई करे। इसके अलावा, सोसाइटी ने मांस और मछली को ताजा रखने के लिए शीत भंडारण सुविधा शुरू करने की योजना बना रही हैं। साथ ही साथ यह संस्था मांस-मछली और अन्य खाद्य सामग्री बेचने के एक मोबाइल स्टोर भी शुरू करेगी।

सोसाइटी का कहना है कि वो जल्द ही जिले में एक रेस्तरां श्रृंखला शुरू करेगी। पशु मांस विनिर्माण सहकारी समिति के प्रमुख ए. नागेश भाजपा और आरएसएस के प्रशासनिक समिति के सदस्य हैं। गौरतलब है कि यह खबर ऐसे समय पर आई है जब गाय के नाम देशभर में हो रहे हत्या में प्रत्यक्ष और प्ररोक्ष रूप से भाजपा और आरएसएस से जुड़े लोगों का नाम सामने आ रहा है।

इसे भी पढ़ें- हत्यारे गौगुंडों और गाय की राजनीति करने वालों के लिए नजीर हैं गााय के मसीहा मजदूर जफरुद्दीन

बीजेपी नेता ने किया था वादा अच्छा बीफ उपलब्ध कराऊंगा-  

इससे पहले केरल में ही मल्लापुरम लोकसभा सीट से बीजेपी के उम्मीदवार एन. श्रीप्रकाश ने लोगों से वादा किया था कि अगर वह सांसद चुने जाते हैं तो अपने निर्वाचन क्षेत्र में अच्छे गौमांस की आपूर्ति सुनिश्चित करेंगे। इस खबर के बाद राजनीतिक पारा बढ़ गया था।

Related posts

Share
Share