You are here

मुस्लिमों को देश से भगाने वाले बयानवीर BJP MLA का नया पैंतरा, “सुरक्षा दो मुझे धमकी मिल रही है”

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो 

दो दिन पहले ही मुस्लिमों को देश से खदेड़ने और हज यात्रा से रोकने की बात करने वाले बीजेपी विधायक अब पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं। खुद का वीडियो फेसबुक पर वायरल करके लाइम लाइट में आने का प्रयास कर रहे यूपी के महोबा जिले के चरखारी से विधायक बृजभूषण उर्फ गुड्डु ने पुलिस को पत्र लिखकर सुरक्षा की गुहार लगाई है।

पुलिस को दिया 12  अंकों का नम्बर- 

मुसलमानों की हज यात्रा रोकने वाला बयान देने वाले बीजेपी विधायक के अनुसार उनको एक धमकी भरा पत्र मिला है. बीजेपी विधायक ने इसकी शिकायत पुलिस से करते हुए अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा की मांग की है. बता दें कि जिस नंबर से बीजेपी विधायक बृजभूषण राजपूत धमकी मिलने की बात कर रहे हैं वो 12 डिजिट का है. उन्होंने पत्र में यह भी लिखा है की मेरे घर के पीछे मदरसा और मस्जिद है. पुलिस पत्र और नंबर की पुष्टि कर रही है.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसद रूपा गांगुली का शर्मनाक बयान, अपनी बहन बेटियों को बंगाल भेजो 15 दिन में ही रेप हो जाएगा

पब्लिकसिटी स्टंट के लिए खुद का वीडियो किया था वायरल- 

महोबा जिले की चरखारी विधानसभा के भाजपा विधायक ब्रजभूषण उर्फ गुड्डू राजपूत ने अपना खुद का वीडियो बनाकर उसमें मुस्लिमों के खिलाफ जहर उगला है। पूरे वीडियो को देखकर आप खुद समझ जाएंगे कि ये वीडियो महज सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए खुद से बनाया गया है फिर इसे सुनियोजित तरीके से सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है।

इसे भी पढ़ें- सीएम योगी की नजर में आने के लिए मुस्लिमों को गाली देकर खुदा का वीडियो वायरल किया बीजेपी विधायक ने

ब्रजभूषण और उनके पिता के बारे में विस्तार से जानिए- 

नितिन ठाकुर से फेसबुक वॉल से साभार-

बीजेपी के चरखारी से विधायक ब्रजभूषण राजपूत हैं. 35 साल के विधायक महोदय घोषित तौर पर 16 करोड़ रुपए से भी ज़्यादा की संपत्ति के मालिक हैं और 6 केस में आरोपी हैं. इन्होंने कल ही कहा है कि अगर मंदिर नहीं बनने दिया जाएगा तो ये हज यात्रा को रोक देंगे. हां, बिल्कुल ये हज यात्रा रोक सकते हैं. ये बिल्कुल उसी तरह हज यात्रा रोक देंगे जैसे इनके चापलूस पिताजी ने सोनिया गांधी को प्रधानमंत्री बनवा के छोड़ा था.

पूर्व सांसद गंगाचरण राजपूत विधायक के पिता

इसे भी पढ़ें- जज्बे को सलाम, जिस अदालत के सामने भीख मांगती थीं उसी की जज बनीं किन्नर जोइता मंडल

इस पोस्ट की दूसरी तस्वीर में जो शख्स कनपटी पर पिस्तौल लगाए खड़ा है वो इनके पिता जी हैं, दलबदल में माहिर. 1989 में जनता दल के टिकट पर हमीरपुर से सांसद बने और फिर 1996 और 98 में बीजेपी से जीते. साल 2004 में ये साहब कांग्रेस में थे और 2009 में हाथी पर सवार होते हुए 2015 में फिर बीजेपी के कमल पर बैठ गए. 18 मई 2004 को जब सोनिया गांधी ने पीएम पद ठुकराया तो ये साहब सोनिया के घर के बाहर एक गाड़ी की छत पर चढ़कर ड्रामा कर रहे थे.

हज यात्रा रोकने की गीदड़ भभकी देने वाले ब्रजभूषण के पिताजी के बारे में उस दौरान उनकी ही पार्टी बीजेपी के पितृसंगठन आरएसएस का मुखपत्र क्या लिखता है खुद पढ़ लीजिए-

“श्री राजपूत अपनी छड़ी से लोगों को अपने पास आने से रोक रहे थे और कह रहे थे, “सोनिया गांधी को बता दो वरना मैं खुद को गोली मार लूंगा.” आस-पास जुटे कुछ कांग्रेसी इस “नाटक” से मजे लूटने लगे तो एक महिला ने उन्हें फटकारा. आखिर में कार मालिक अपनी गाड़ी वहां से अलग ले गया और पुलिसकर्मियों ने श्री राजपूत से उनकी पिस्तौल छीन ली. पूछने पर पता चला कि रिवाल्वर का “सेफ्टी लाक” लगा हुआ था, जिसको हटाए बिना गोली चल ही नहीं सकती थी. अब तुगलक रोड थाने में श्री राजपूत के विरुद्ध मामला भी दर्ज हो गया है.”

पढ़ें- पिछड़ों को डॉक्टर नहीं बनने देगी मोदी सरकार, मेडीकल की पहली सूची में ओबीसी को मिला सिर्फ 2 फीसदी आरक्षण

तो अब आप समझ गए होंगे कि ये जनाब किस वीर पिता के वीर पुत्र हैं और जैसे इनके पिताश्री सेफ्टी लॉक लगी रिवॉल्वर से खुद को गोली मारकर सोनिया के चरणों में न्यौछावर होने को राजी थे ठीक वैसे ही ये अब हज यात्रा रोक कर दिखा देंगे. ” आजकल सारे बकवीर भाजपा में शामिल हो गए लगते हैं.

सीएम की मानसिकता का असर- 

योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने के साथ बदले हुए कट्टर तेवरों वाली बीजेपी के युवा नेता भी शीर्ष नेतृत्व तक अपनी पकड़ बनाए रखने और चर्चित बने रहने के लिए नफरत फैलाने वाले भाषणों का इस्तेमाल कर रहे हैं. जिसका मंच पर दिया भाषण वायरल नहीं हो पाया वो रेस में बना रहने के लिए और सीएम योगी तक कट्टर हिंदूवादी छवि पहुंचाने के लिए खुद का वीडियो बनाकर वायरल कर दे रहा है।

वीडियो बनाने वाले विधायक गुड्डु राजपूत को अच्छे से पता है कि सीएम योगी आदित्यनाथ मुस्लिमों के खिलाफ जहर उगलकर ही आज यहां तक पहुंचे हैं। उनकी हिंदू युवा वाहिनी आज भी मुस्लिमों को दूसरे मुल्क का इंसान मानती है। ऐसे में ये वीडियो जितना ज्यादा चर्चित होगा उतना गुड्डु राजपूत को सीएम के करीब होने का मौका मिलेगा।

इसे भी पढ़ें- पिछड़ों इस बार सावधान, राजनीतिक कट्टरपंथियों ने फिर से यूपी को सुलगाने की योजना पर काम शुरू कर दिया है

पूरी बयान पढ़िए बयानवीर विधायक ने क्या कहा था- 

हिंदू भगाने पर आ गए ताे…

BJP विधायक ने कहा, ”मुसलमानों को पाकिस्तान और हिंदुओं को हिंदुस्तान दिया गया। भारत हिंदुओं का देश है, अल्पसंख्यकों का नहीं। मुसलमान कहते हैं कि वो इसी देश मे पैदा हुए हैं, उन्हें यहां से कोई नहीं भगा सकता। हमने कभी भगाने की बात ही नहीं की। अगर 100 करोड़ हिंदू भगाने की बात करने लगेंगे, तो तुम यहां रह नहीं पाओगे।”

राम मंदिर निर्माण पर – 

”हमारे देश की सरकारें इनको हज सब्सिडी देती है। हम हिंदू कभी हज यात्रा जाने से नहीं रोकते, बल्क‍ि उनका सम्मान करते हैं। आने वाले समय में 100 करोड़ लोग राम मंदिर जरूर बनाएंगे। अगर मुस्लिम समाज के लोग मंदिर बनने से रोकने की कोशिश करते हैं, तो उन्हें भी मक्का मदीना जाने से रोकने का काम किया जाएगा। यह काम आपका विधायक गुड्डू राजपूत करेगा।”

इसे भी पढ़ें-योगी की पहचान ऐसे मंदिर के पुजारी के रूप में है जो सर्वोच्च जातिवादी परंपरा के लिए कुख्यात है- न्यूयार्क टाइम्स

आरक्षण पर कहा- 

”वीडियो में वह आगे कह रहे हैं कि अगर मंदिर नहीं बन सकता तो इन्हें क्यों हज यात्रा जाने की अनुमति प्रदान होती है। इन्हें भी हजयात्रा से रोका जाए। इनकी सब्सिडी खत्म की जाए। ये 20 करोड़ मुसलमान हैं, अल्पसंख्यक नहीं। इनके आरक्षण को भी खत्म कर दिया जाए। 20 करोड़ मुसलमान तो पाकिस्तान में भी नहीं हैं, तो यहां ये अलसंख्यक कैसे हुए।”

 

 

Related posts

Share
Share