You are here

पार्टी की हार पर BJP विधायक बोले, जैसा किया है तूने, वैसा ही भरेगा, तेरी बदी का बदला, तुझको यहीं मिलेगा

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

भारतीय जनता पार्टी बदल चुकी है। इस बदली हुई बीजेपी में कुछेक लोगों को आधिपत्य है। कार्यकर्ता की इस बदली बीजेपी में कोई हैसियत नहीं। बीजेपी के कार्यकर्ता तो छोड़िए राष्ट्रीय स्तर के कई पदाधिकारी दबी जुबान इस बात को स्वीकार करते हैं।

पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के रुख में आए तानाशाही भरे बदलाव की वजह से विभिन्न प्रदेशों का नेतृत्व भी मनमाने ढ़ंग से कार्य करता है। गाहे-बगाहे पार्टी के नेता अपने दुख को सामने लाते भी रहते हैं। अब राजस्थान के एक विधायक का ऑडियो वायरल हुआ है।

राजस्थान उप चुनावों में भाजपा की हार पर पार्टी के ही एक विधायक के खुश होने का तथाकथित ऑडियो वायरल हुआ है। इस वीडियो में विधायक अपने एक कार्यकर्ता से यह कहते हुए सुने गए हैं कि जैसा किया है तूने, वैसा ही तू भरेगा।

कहा जा रहा है कि जिस बागी विधायक का ऑडियो वायरल हुआ है वो पहले भी प्रदेश महामंत्री को राज्य में नेतृत्व परिववर्तन के लिए लिख चुके हैं। यह ऑडियो राजस्थान के व्हाटसअप ग्रुप में तेजी से वायरल हो रहा है।

तीन सीटों पर हारी थी भाजपा- 

बता दें कि पिछले महीने हुए उप चुनाव में अलवर और अजमेर संसदीय सीट और एक विधानसभा सीट पर कांग्रेस ने भाजपा उम्मीदवारों को हरा दिया था। इस हार के बाद से ही कयास लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से नाराज है। इस साल के आखिर तक राज्य में विधान सभा चुनाव होने हैं।

वायरल ऑडियो क्लिप में विधायक और कार्यकर्ता के बीच शायरना अंदाज में बातचीत दर्ज है। बातचीत में विधायक गुनगुनाते हुए कहते हैं, जैसा किया है तूने, वैसा ही भरेगा, तेरी बदी का बदला, तूझको यहीं मिलेगा।

एक जगह यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं, “मैं तो 40 हजार से हारा हूं फिर भी मस्त हूं और असमस्त हूं। मौला हूं, हरफनमौला हूं। हार से सरकार बदनाम, जसवंत बदनाम। हम थोड़े हारे हैं, चुनाव तो सरकार हारी है।” ऑडियो में यह भी कहा गया है कि वेट एंड वॉच।

गौरतलब है कि चुनावी साल होने की वजह से ही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आज (12 फरवरी) लोकलुभावन बजट पेश कर लोगों को रिझाने की कोशिश की है। वसुंधरा राजे सरकार ने अपने बजट में शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर रोजगार देने की घोषणा की है।

धार्मिक मुख्यमंत्री के राज में UP का स्वास्थ्य, नीति आयोग के सूचकांक में देश भर में सबसे खराब

15 दलों के 114 सांसदों ने, अमित शाह केस की सुनवाई कर रहे जज लोया मौत की निष्पक्ष जांच की मांग की

1857 की जनक्रांति के जनक थे शहीद धन सिंह कोतवाल, मंगल पांडे का मेरठ से कोई वास्ता नहीं था !

SDM का दर्द : मीटिंग के नाम पर 2 बजे से रात 12: 40 तक बैठा रहा, आपके अधिकारी बीमार हो रहे हैं योगी जी

गुजरात: मोहल्ले से दलित की शवयात्रा निकालने पर, बेटे को सवर्णों ने पीटा, पुलिस ने कराया अंतिम संस्कार

 

Related posts

Share
Share