You are here

हिन्दू देवी-देवताओं को भी नहीं बख्शा, उनके अस्त्र-शस्त्र पर भी टैक्स बसूलेगी भाजपा

लखनऊ/अलीगढ़। नेशनल जनमत ब्यूरो

धर्म को ढाल बनाकर राजनीति करने वाली पीएम मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार ने हिन्दू देवी-देवताओं को भी नहीं बख्शा है. अब कल यानि 1 जुलाई से लागू हो रहे जीएसटी में देवी-देवताओं की मूर्तियां तो मंहगी होंगी ही उनके साथ लिए जाने वाले अस्त्र-शस्त्र यानि उनके हथियार भी मंहगे हो जाएंगे.

120 करोड़ रुपये का है मूर्ति कारोबार-

उ.प्र. का अलीगढ़ शहर ताले और  देवी-देवताओं की प्रतिमाएं बनाने में विश्व प्रसिद्ध है। यहां हर साल तकरीबन 120 करोड़ रुपये का मूर्ति कारोबार होता है।

पढ़ेंगे-फर्क तो पड़ता है बॉस, अमेरिका में सिखों ने तस्वीर को जूतो से पीटा,देश में गोहत्या पर रो दिए पीएम

देवी देवताओं की प्रतिमाओं पर पांच फीसदी वैट पहले भ था लेकिन लोगों को उम्मीद थी कि भाजपा सरकार बनने के बाद वह धार्मिक एजेंडे के तहत टैक्स हटा सकता है लेकिन हुआ इसके विपरीत. बीजेपी सरकार में भगवान राम को रियायत मिलने के बजाए अब टैक्स की दर और बढ़ा दी गई है।

अब देवताओ के हथियारों पर  भी लगेगा टैक्स- 

पहले तो देवी-देवताओं की प्रतिमा पर ही टैक्स लगता था लेकिन अब प्रतिमाओं के साथ लगने वाले अस्त्र-शस्त्र पर भी पांच फीसदी जीएसटी लगा दिया गया है. अगर आप भगवान श्रीराम की प्रतिमा लेंगे और उस पर धनुष सजाएंगे तो दोनों की खरीद पर आपको पांच फीसदी कर अदा करना होगा।

पढ़ें- मंत्री प्रतिनिधि के उत्पीड़न से आक्रोशित मंत्री राजभर अपनी ही सहयोगी सरकार के खिलाफ करेंगे प्रदर्शन

जीएसटी के नोडल अधिकारी ज्वाइंट कमिश्नर आरएस विद्यार्थी ने बताया कि प्रतिमाएं और उनके साजो सामान सभी पांच फीसदी कर के दायरे में आएंगे। सपा जिलाध्यक्ष एवं शहर के प्रमुख मूर्ति कारोबारी अशोक यादव ने कहा है कि भगवान श्रीराम के नाम पर श्रीराम मंदिर के लिए आंदोलन करने और धर्म के आधार पर राजनीति करने वाली भाजपा सरकार ने जीएसटी लागू करने में भगवान को भी नहीं बख्शा। देवी प्रतिमाओं और उनके अस्त्र शस्त्र पर पांच फीसदी का जीएसटी लागू हो गया।

आज है भारत  बंद के समर्थन में अलीगढ़ भी बंद – 

जीएसटी में व्याप्त खामियों के विरोध में व्यापारी नेताओं ने 30 जून को भारत बंद का आह्वान किया है। अलीगढ़ के अधिकतर व्यापारिक संगठनों ने बंद का समर्थन किया है। अलीगढ़ उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के प्रांतीय सचिव अनिल सेंचुरी एवं प्रदेश संगठन मंत्री मास्टर ओमप्रकाश ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष श्यामबिहारी मिश्रा के आह्वान पर शुक्रवार को अलीगढ़ बंद रहेगा।

पढ़ें- मनुवादियों ने अपनी गोमाता की सेवा करने की बजाए उसका भार साजिशन किसानों पर डाल दिया है

Related posts

Share
Share