You are here

‘देशभक्त’ PM के राज में BSF जवान का आरोप, मेस के पैसे से सेना के अधिकारी करते हैं प्रॉपर्टी का धंधा

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

सेना कै शौर्य को बड़ी-बड़ी होर्डिंग लगाकर बेचने वाली मोदी सरकार के राज में भी सेना के जवानों की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है। जवान तेजबहादुर यादव ने सोशल मीडिया पर वीाडियो जारी करके खाने की क्वालिटी पर सवाल उठाए थे। सरकार ने आरोपों पर गौर करने की मामला ठंडा होते ही कई आरोप लगाकर उन्हे नौकरी से हटा दिया। अब एक बार फिर ऐसा ही वीडियो सामने आया है।

खुद को बीएसएफ का जवान बताने वाले एक शख्स ने दावा किया है कि बीएसएफ के अधिकारी जवानों के राशन के पैसों से प्रॉपर्टी का धंधा कर रहे हैं। इस शख्स ने फेसबुक पर वीडियो अपलोड करके यह आरोप लगाया है। शख्स ने कई बटालियन का उदाहरण देकर बीएसएफ अधिकारियों पर ये आरोप लगाए हैं।

वीडियो में दिख रहे शख्स का दावा है कि शिकायत होने के बाद भी अधिकारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती। साथ ही कहा कि सभी को सब कुछ पता होने के बाद भी जांच होती नहीं है होती है तो वो भी अधिकारियों के पक्ष में ही होती है।

तेजप्रताप यादव ने इस शख्स का नाम नवरत्न चौधरी बताया है-  

वीडियो में जवान ने कहा है, ‘बीएसएफ अपने जवानों के खाने के पैसों का इस्तेमाल बतौर एटीएम करती है। चाहें निरीक्षण हो, ऑडिट तो या फिर किसी अधिकारी का दौरा हो उनकी खातिरदारी के लिए जवानों के मेस से ही पैसे निकाले जाते हैं।

मेस के पैसे से दिल्ली में प्रापर्टी- 

जवान ने आगे कहा कि बीएसएफ की 150वीं बटालियन के बारे में आपको एक घटना बताता हूं। जवानों के राशन के लिए 45-50 लाख रुपए जमा होते हैं। यह सारा पैसा कैश के रूप में जमा होता है। लेकिन ये लोग उस पैसे को निकालकर दिल्ली में प्रॉपर्टी डीलर बने हुए थे।

राशन के लिए बटालियन में पैसे नहीं है और ये लोग अपना बिजनेस चला रहे हैं। यह घटना मई-जून 2016 की है। जब यह बटालियन दिल्ली में थी तो जवानों का राशन उधारी में लाया जाता था और राशन का पैसा अपने बिजनेस में लगा लेते थे।

जवानों को मिलता है घटिया खाना- 

शख्स ने वीडियो के साथ शिकायत की कॉपी फेसबुक पर अपलोड करते हुए कहा है, ‘जब यह बटालियन गांधीनगर गई तो वहां व्यापारियों ने थोड़ी बहुत तो उधार सामान दिया, लेकिन रकम बढ़ने पर उन्होंने उधार सामान देने से मना कर दिया।

इसका असर हुआ जवानों के खाने पर। चाय में चीनी नहीं, खीर में दूध नहीं। जब इसके बारे में पूछा गया तो कोई जवाब नहीं दिया जाता। इस बारे में सबको पता था, लेकिन आवाज किसी ने नहीं उठाई।

मैंने इसकी लिखित में शिकायत की। मेरी शिकायत के बाद जांच के आदेश हुए, लेकिन इतना वक्त गुजर गया अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

(वीडियो की पुष्टि नेशनल जनमत नहीं करता है) 

संगीत सोम ने ताजमहल को बताया संस्कृति पर धब्बा, अखिलेश बोले नफरत की राजनीति करती है BJP

सामाजिक चिंतक कांचा इलैया की किताब ‘पोस्ट हिंदू’ इंडिया’ बैन करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

UP में गुंडाराज: अवैध कब्जे का विरोध करने पर पेट्रोल पंप मालिक पांडेय ने की गोलीबारी, 3 की मौत 9 घायल

BJP सांसद स्वामी ने खोली PM के विकास की पोल, बोले सिर्फ विकास नहीं, हिन्दू कार्ड है जीत का मंत्र

बदलाव की आहट: पंजाब लोकसभा उपचुनाव में अपनी पुश्तैनी सीट हारी BJP, कांग्रेस प्रत्याशी की बंपर जीत

 

Related posts

Share
Share