You are here

BSP के कद्दावर नेता रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी करेंगे अखिलेश यादव संग साइकिल की सवारी

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो। 

बसपा अध्यक्ष मायावती के खास सेनापति रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी अब समाजवादी पार्टी में शामिल होंगे. नसीमुद्दीन सिद्दीकी का अखिलेश के साथ जाना तय माना जा रहा है.

5 अक्टूबर को पूर्व बसपा राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी अपने हज़ारों समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी के आगरा में होने वाले राज्य स्तरीय अधिवेशन में सपा में शामिल होंगे. इस अधिवेशन में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष का भी चुनाव होगा.

जहां अखिलेश यादव का औपचारिक रूप से अध्यक्ष चुना जाना लगभग तय है. वहीं नसीमुद्दीन बीएसपी से समाजवादी पार्टी में आने वाले सबसे बड़ा चेहरा होंगे. नसीमुद्दीन का समाजवादी पार्टी में जाना सपा-बसपा एकता में खलल के रूप में देखा जा सकता है.

बसपा ने किया था निष्कासित-

गौरतलब है कि मई में बहुजन समाज पार्टी ने कद्दावर नेता और सबसे बड़े मुस्लिम चेहरे नसीमुद्दीन सिद्दीकी को पार्टी से निष्कासित कर दिया था. बसपा ने सिद्दीकी पर पार्टी की छवि खराब करने का आरोप लगाया था. बसपा ने दावा किया था कि नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने पश्चिमी यूपी में बेनामी संपत्ति और बूचड़खाने लगाए हैं. नसीमुद्दीन ने लोगों से बीएसपी की सरकार के नाम पर पैसे लिए.

विधानसभा में हार के बाद बढ़ गईं मुसीबतें-

मायावती की 1995 में सरकार बनने के बाद उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया था। इसके बाद से ही वे मायावती के खासमखास लोगों में शामिल होते गए। कई मुद्दों पर मायावती ने नसीमुद्दीन को आगे रखा और पार्टी में उनका कद बढ़ता गया।

लेकिन विधानसभा चुनाव 2017 में बहुजन समाज पार्टी के सिर्फ 19 सीटों पर सिमटने के बाद नसीमुद्दीन सिद्दीकी के लिए मुसीबत बढ़ना शुरू हो गई थीं। और, आखिर में बसपा सुप्रीमो ने उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

नसीमुद्दीन ने बनाई थी नई पार्टी-

बसपा से अलग होने के बाद नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने ‘राष्ट्रीय बहुजन मोर्चा’ नाम से नई राजनीतिक पार्टी बनाई थी. नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने बसपा से अलग होने के मायावती पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे. उन्होंने यह भी कहा था कि उनकी और उनके परिवार की जान को मायावती के लोगों से खतरा है. इस संबंध में उन्होंने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करके अपने लिए जेड श्रेणी सुरक्षा की मांग की थी.

‘साझी विरासत’ सम्मेलन में बोला विपक्ष, BJP सरकार की तानाशाही से जनता को निजात दिलाकर रहेंगे

राजस्थान के रामराज में स्कूल भी सुरक्षित नहीं, 6 साल की बच्ची के साथ केंद्रीय विद्यालय में रेप !

BJP सांसद बोले महाराष्ट्र की BJP सरकार के तीन सालों में किसानों की आत्महत्याएं बढ़ी हैं

संयुक्त राष्ट्र संघ ने गाय के नाम पर हिंसा और पत्रकारों की हत्या पर पीएम मोदी की आलोचना की

शिवराज का रामराज: प्राइमरी  शिक्षक महेन्द्र यादव निलंबित, आरोप-खुले में शौच 

आप लिपटे रहिए धर्म की चासनी में, यहां देश में पहली बार जाति के नाम पर बन गया ‘ब्राह्मण आयोग’

जापानी PM से गुजरात के विकास मॉडल की हकीकत छुपाने के लिए, झुग्गी-झोपड़ी को कपड़े से ढका गया

 

 

Related posts

Share
Share