You are here

एक तरफ तो भगवान को दाता कहते हो, दूसरी तरफ मंदिरों में पैसे चढ़ा कर उसी दाता को भिखारी बना देते हो

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो ।  वो बाबा किसी के घर नहीं गया था किसी को बुलाने और कहने की अपनी लड़की मुझे दे दो । बाबा ने जो किया गलत किया, लेकिन ये लड़कियाँ जिनकी बेटियाँ है क्या इनके अच्छे बुरे की जिम्मेदारी उन माँ बाप की नहीं थी वो कैसे अपनी बेटी को उसके आश्रम में छोड़ आये…

Read More

नजरिया: अखाड़ा परिषद अदालत है क्या? उसे किसने अधिकार दिया, फर्जी बाबाओं की सूची जारी करने का ?

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो।  अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने रविवार को इलाहाबाद में अपनी कार्यकारिणी की बैठक में देश के 14 फर्जी बाबाओं की सूची जारी की थी। हालांकि लोग इस बात पर सवाल उठा रहे हैं लोगों का कहना है कि अखाड़ा परिषद ने इन बाबाओं के नाम जारी करते-करते बहुत देर कर दी। जब अदालत से ही इन…

Read More

PM को गुंडा कहना मानहानि नहीं है, अगर कोई साबित कर दे कि प्रधानमंत्री वास्तव में गुंडा है

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो।  वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद उनको अपशब्द कहने वालों को ट्विटर पर फॉलो करने के कारण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आलोचना का शिकार हो रहे हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर खबर चला चालू  हुई कि पत्रकार रवीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को गुंडा कहा है। हालांकि रवीश कुमार ने खुद सामने…

Read More

ब्राह्मण वैज्ञानिक ने लगाया कुक निर्मला यादव पर भगवान को अपवित्र करने का आरोप, दर्ज कराया केस

नई दिल्ली/पुणे, नेशनल जनमत ब्यूरो।  जातिवादी मानसिकता से ग्रसित लोग सामाजिक असमानता दूर करने के नाम पर कितना भी दलितों के घर खाना खाने का दिखावा कर लें। शिक्षा और पद भी इनकी मानसिकता नहीं बदल पाते। आरक्षण के मुद्दे पर सवर्ण ज्ञान देते हैं कि अब तो देश में समानता आ गई है, अब आरक्षण की कोई जरुरत नहीं।…

Read More

तुम सवाल से डरते हो, हमें मौत से डर नहीं… क्या यही वजह है मेरे कत्ल की…

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो नरेंद्र दाभोलकर, कलबुर्गी, पनसारे……. अब गौरी लंकेश। व्यवस्था के नकारेपन के खिलाफ जनता को जागरूक करने वाले लेखकों, पत्रकारों, कलमकारों की आवाज खामोश की जा रही है। इन बेबाक आवाजों का गुनाह सिर्फ इतना है कि ये साम्प्रदायिकता एवं फासीवाद के खिलाफ लिखते थे। आखिर सवाल से इतनी बौखलाहट? सवाल से इतनी झल्लाहट? जम्हूरियत को…

Read More

पत्रकार गौरी लंकेश को दफनाने के बाद, पगलाए जाति गिरोह उनका धर्म सूंघने की कोशिश कर रहे हैं

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  कन्नड़ लेखिका, वरिष्ठ पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश सिर्फ एक पेशेवर पत्रकार हीं नहीं बल्कि देश में बनाए जा रहे छद्म माहौल के प्रति मुखर रहने वाली विचारक भी थीं। इसलिए उनकी हत्या के विरोध में देश भर में हजारों लोगों प्रदर्शन कर रहे हैं। बेंगलुरू से लेकर दिल्ली तक हत्या के विरोध में…

Read More

संघी एजेंडा: OBC/SC/ST के खिलाफ साजिश,आरक्षण खात्मे से सरकारी नौकरी खत्म, नोटबंदी से प्राइवेट नौकरी खत्म

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।  8 नवंबर 2016 का दिन भारत के इतिहास में सबसे पीड़ादायक दिनों में से एक है। इस दिन केंद्र सरकार द्वारा लिए गए नोटबंदी के फैसले से लाखों लोग बेरोजगार हो गए। नोटबंदी की मार झेल रहे तमाम लोगों को आज भी दो जून की रोटी मिलना मुश्किल है। वहीं नोटबंदी के दौरान 150 से…

Read More

PM जिनको ट्विटर पर फॉलो करते हैं, देखिए वो गौरी लंकेश के मरने का जश्न किस घिनौने अंदाज में मना रहे हैं ?

नई दिल्ली/बेंगलुरू, नेशनल जनमत ब्यूरो। कन्नड़ की वरिष्ठ महिला पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने उन पर सात गोलियां अंधाधुंध दागी जिनमें से तीन गोलियां उनको लगीं। गौरी लंकेश को सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लिखने के लिए जाना जाता है। इस दुखद घटना को संघी मानसिकता के कुछ लोग सोशल…

Read More

BJP-RSS को धर्म से नहीं जाति से पकड़िए, RSS को हिन्दुवादी कहने से उसका जातिवादी चरित्र छुप जाता है

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो  वर्तमान में देश में जिस तरह का माहौल है और जिस तरह का माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है उससे एक बात तो स्पष्ट है कि शिक्षण संस्थाओं को चलाने के तौर तरीकों से लेकर, लोगों की सोच में भी संघ अपना एजेंडा घुसा देना चाहती है। केन्द्र की मोदी सरकार के अलावा…

Read More

आखिर अपने स्टूडेंट की ही थीसिस चुराने वाले शिक्षक की याद में कौन मनाता है शिक्षक दिवस ?

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो।  पांच सितंबर यानि बच्चोे के लिए व्यवसायिक हो चुके शिक्षकों को गिफ्ट देने का दिन। शिक्षक दिवस के दिन अगर छुट्टी करनी भी पड़े तो कि एक दिन पहले ही प्रोफेशनल शिक्षकों को उपहार पहुंचा दिए जाते हैं। वो भी उन बच्चों के द्वारा जिनको इस बात की समझ भी नहीं होती कि आखिर हम…

Read More
1 2 3 4 37
Share
Share