You are here

रावण की गिरफ्तारी के बाद मां ने कहा पुलिस बेवजह मेरे बेटे को अपराधी बनाने पर तुली है

शिमला/सहारनपुर: नेशनल जनमत ब्यूरो

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में पिछले दिनों भड़की हिंसा के मामले में भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण को गिरफ्तार कर लिया है.रावण को यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने हिमाचल प्रदेश के डलहौजी से गिरफ्तार किया है. चंद्रशेखर की गिरफ्तारी के बाद सहारनपुर में इंटरनेट को एहतियातन 2 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया गया है।

इस बारे में चंद्रशेखर की मां कमलेश और छोटा भाई कमल किशोर का आरोप है कि उसके बेटे को प्रशासन बेवजह अपराधी बनाने पर तुला है. चंद्रशेखर ने ऐसा कोई काम नहीं किया जो कानून के खिलाफ हो या सहारनपुर की शांति को बिगाड़ने वाला हो. हम तो अपने अधिकारों के लिे लड़ रहे थे. चंद्रशेखर के भाई ने कहा है कि चंद्रेशेखर की गिरफ्तारी के विरोध में हजारों लोग गिरफ्तारी देंगे.

चंद्रशेखर की मां और भाई ले लिए गए थे हिरासत में –

गुरुवार की शाम चंद्रशेखर की मां कमलेश और छोटा भाई कमल किशोर ने करीब 3 बजे मीडिया को कॉल कर अपनी बात रखने के लिए दिल्ली रोड स्थित बामियान बुद्ध विहार में बुलाया था। चंद्रशेखर की मां कमलेश और भाई कमल किशोर अपनी बात शुरु भी नहीं कर पाए थे। इतने में क्राइम ब्रांच की टीम पहुंच गई और कमल किशोर को गिरफ्तार लिया.

क्या है भीम आर्मी?

– यह संगठन सहारनपुर के 700 गांवों में एक्टिव है. 2013 में बनी भीम आर्मी दलितों को लीड करती है। इसका चीफ एडवोकेट चंद्रशेखर आजाद है। दावा है कि हर गांव में भीम आर्मी के 100 से ज्यादा मेंबर हैं। ये सभी अपने सर पर नीला कपड़ा बांधते हैं।

Related posts

Share
Share