You are here

भाई की हार से खफा BJP सांसद बोले, जो टुकड़े फेंकता है, पुलिस वाले उसके इशारों पर दुम हिलाते हैं

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

सीएम अजय सिंह बिष्ट उर्फ आदित्यनाथ की सरकार में सत्ता में रहने के बाद भी दलित-पिछड़े नेताओं की हैसियत क्या होती है? इस बात को देखने समझने के लिए बीजेपी से वर्तमान विधायक-सांसदों के पास जाकर उनसे सरकार के काम काज की बात करो ज्यादातर का दर्द छलक पड़ता है। हालिया मामला रॉबर्ट्सगंज सीट से बीजेपी के सांसद छोटे लाल खरवार का है।

रॉबर्ट्सगंज सीट से बीजेपी के सांसद छोटे लाल खरवार ने पुलिस कर्मियों की बढ़ती अराजकता पर अपनी खीज निकाली है। सांसद ने पुलिसवालों को कुत्ते से भी बदतर करार दिया है। बीजेपी सांसद ने कहा कि यूपी पुलिस में जो सीओ, दारोगा, जमादार और अन्य पुलिसकर्मी हैं वो कुत्ते की तरह हैं। यहां तक कि उससे भी बदतर हैं। जो लोग उनके सामने टुकड़े फेंकता है, उसके इशारों पर ये पुलिस वाले दुम हिलाते हैं।

दरअसल, सांसद खरवार अपने छोटे भाई और नौगढ़ के ब्लॉक प्रमुख जवाहर खरवार की आशंकित हार से खफा थे। उनके छोटे भाई फिर से इस पद के लिए होने वाले चुनाव में उम्मीदवार हैं और इस लिहाज से उनके लिए सुरक्षा की मांग की थी लेकिन उन्हें मदद नहीं मिली। इससे खफा सांसद महोदय ने पुलिस वालों को जमकर खरी खोटी सुनाई। सांसद ने सदन में भी मामले को उठाने की धमकी दी।

जिस समय बीजेपी सांसद अपने गुस्से का इजहार कर रहे थे, उस वक्त वहां उनके कई समर्थक मौजूद थे। सांसद की मौजूदगी में ही उनके समर्थकों ने नारेबाजी की। सांसद को शांत कराने के लिए डीएम हेमंत कुमार हाथ जोड़े खड़े रहे लेकिन सांसद महोदय अपनी भड़ास निकालते रहे।

बता दें कि यह मामला यूपी बीजेपी अध्यक्ष और सांसद महेन्द्र नाथ पाण्डेय के चंदौली जिले और रॉबर्टसगंज संसदीय सीट से जुड़ा हुआ है। जिले के चकिया विधान सभा क्षेत्र के अन्तर्गत आता है नौगढ़ ब्लॉक जो सोनभद्र के रॉबर्टसगंज संसदीय क्षेत्र का भी हिस्सा है।

सपा 31 अक्टूबर को आयोजित करेगी सरदार पटेल जयंती समारोह, कुर्मी समाज के दिग्गजों का होगा जमावड़ा

विपक्ष के बाद BJP सांसद वरुण गांधी ने साधा निशाना, बोले बिना दांतों का बाघ है चुनाव आयोग

शत्रुघ्‍न सिन्हा का PM मोदी पर वार, पार्टी में 80% लोग आडवाणी को राष्ट्रपति बनते देखना चाहते थे

जिनके वंशजों का इतिहास देश को गुलाम बनाने का रहा है, वह मराठाओं के इतिहास पर उंगली ना उठाएं भाग-1

मराठाओं का शौर्य से भरा गौरवशाली इतिहास बनाम पेशवाओं का कलम से गढ़ा इतिहास पार्ट-2

चुनाव की तारीख घोषित ना करने पर बोला विपक्ष, गुजरात में BJP की डूबती नैया को चुनाव आयोग का सहारा

इस बार 12 नवंबर को गाजियाबाद में जयंती मनाएगा सरदार पटेल सेवा संस्थान, 1992 से समाज सेवा में है सक्रिय

 

Related posts

Share
Share