You are here

धार्मिक CM के राज में भगवा गुंडों का आतंक, मेरठ में हिन्दू संगठन ने मजार पर पोता भगवा रंग

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो 

वैज्ञानिकता और तार्किकता से ज्यादा धार्मिक मान्यताओं के हिसाब से शासन चलाने वाले आदित्यनाथ के राज में वैमन्सयता पैदा करने वाले भगवा गुंडों को आतंक चरम है। धर्म के नाम पर माहौल खराब करने वाले लोगों का दुस्साहस लगातार बढ़ता चला जा रहा है। ताजा मामला संवेदनशील माने जाने वाले मेरठ शहर का है।

इसे भी पढ़ें- अगर ‘बलात्कार’ शब्द से आपका खून खौलता है, तो पढ़िए वीरांगना फूलन देवी पर लिखी ये कविता…

मजार को भगवा रंग से रंगा- 

मेरठ थाना सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में मजार को भगवा रंग से रंगकर हिन्दू स्वाभिमान संस्था के लोगों ने एक नया विवाद खड़ा कर दिया है। इतना ही नहीं इस मजार पर संस्‍था के लोगों ने हनुमान की मूर्ति भी लगा दी है। उक्‍त कार्य संस्‍था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित भारद्वाज के निर्देश पर किया गया है। इस मामले में थाना सिविल लाइन पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

अमित भारद्वाज के जहरीले बोल- 

मेरठ में सूरजकुंड के पास स्थित मजार को हिन्दू स्वाभिमान संस्था के लोगों ने भगवा रंग में रंगकर वहां हनुमान जी की प्रतिमा स्‍थापित कर सांप्रदायिक माहौल खराब करने का प्रयास किया है।

इसे भी पढ़ें-गोरखपुर दंगा मामले में खुद को बचाने के लिए अपनी सरकार की पूरी ताकत झोंक दी है CM आदित्यनाथ ने !

संस्‍था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित भारद्वाज ने जहरीले बोल बोलते हुए कहा कि जिस तरह अमरनाथ यात्रियों पर हमला किया गया है और आए दिन कश्‍मीर में कट्टरपंथी मुस्‍लमान सेना पर पत्‍थरबाजी करते हैं उसके विरोध स्‍वरूप संस्‍था ने यह निर्णय लिया है कि सभी पीरों के भगवाकरण का कार्य किया जाएगा।

अगर हरा रंग किया तो तोड़ देंगे मजार- 

अमित भारद्वाज बोला कि अभी तो यह मात्र शुरुआत है। वहीं उन्‍होंने पुलिस को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर फिर से मजार पर हरा रंग किया गया तो संस्‍था इसे तोड़ने की कार्रवाई करेगी। उन्‍होंने कहा कि यह उन कट्टरवादी मुस्‍लमानों को मुंहतोड़ जवाब है जो कश्मीर में सेना पर हमला कर रहे हैं।

यह भी बता दें पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है, मामला दो समुदाय से जुड़ा होने के कारण कोई भी अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है।

इसे भी पढ़ें-दलित-पिछड़े हिस्सेदारी मांग रहे हैं और युवक रोजगार, देश में राष्ट्रवाद की कमी हो गई है साहेब !

Related posts

Share
Share