You are here

PM मोदी के शिक्षा मंत्री का संघी एजेंडा, विश्वविद्यालयों का ही नहीं, पूरे देश का भगवाकरण होना चाहिए

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

केन्द्र में बीजेपी सरकार आने के बाद से ही इस बात के आरोप छात्र-छात्राएं लगाते रहे हैं कि संघी मानसिकता के कुलपतियों को विश्वविद्यालय में बैठाकर कैम्पसों को भगवाकरण करने की कोशिश की जा रही है। जेएनयू, डीयू, बीएचयू, इलाहाबाद वि.वि. में छात्र-छात्राएं लगातार कैम्पसों को राजनीति से मुक्त रखने की मांग कर रहे हैं।

इसी बीच छत्तीसगढ़ के बिलासपुर सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास राज्य मंत्री डॉ.सत्यपाल सिंह ने छात्र-छात्राओं की आशंका पर मुहर लगाते हुए बीजेपी का एजेंडा रख ही दिया। केंद्रीय मंत्री ने कहा भगवा ज्ञान का प्रतीक है और सूर्य का रंग भी भगवा है.

उत्तर प्रदेश के बागपत से सांसद, केंद्रीय मंत्री होने के अलावा डॉ.सत्यपाल सिंह पूर्व आईपीएस हैं हैरानी की बात है कि वो विश्वविद्यालयों को धर्म के आधार पर चलाने की सीख कैसे दे सकते हैं। मंत्री जी यही नहीं रुके शिक्षा के मंदिरों के भगवाकऱण की नसीहत देते हुए बोले सिर्फ केंद्रीय विश्वविद्यालयों का ही नहीं बल्कि पूरे देश का भगवाकरण होना चाहिए.

राजस्थान पत्रिका में छपी ख़बर के अनुसार सिंह ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि भगवा ज्ञान का प्रतीक है और सूर्य का रंग भी भगवा है. वो यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि भारतीय समाज भगवे को सन्यास का रंग मानता है और यह अध्यात्म का रंग है.

छात्रों द्वारा किए जा रहे आत्महत्या को भी सिंह ने निजी कारण बताया और कहा कि 30 वर्ष की पुलिस की नौकरी में उन्हें अनुभव हुआ है कि ज्यादातर आत्महत्या निजी कारण के चलते होती हैं.

सत्यपाल सिंह 1980 महाराष्ट्र कैडर के आईपीएस अधिकारी रहे हैं और मुंबई पुलिस आयुक्त के पद से इस्तीफा देकर 2014 लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुए थे.

भगवाकरण राजनीति पर ममता बनर्जी का तंज, BJP कहीं ‘ताजमहल’ और ‘भारत’ का नाम ना बदल दे

अखिलेश ने सपा की नई कार्यकारिणी घोषित की, नेताजी-चाचाजी के नाम गायब, देखिए पूरी लिस्ट

‘देशभक्त’ PM के राज में BSF जवान का आरोप, मेस के पैसे से सेना के अधिकारी करते हैं प्रॉपर्टी का धंधा

संगीत सोम ने ताजमहल को बताया संस्कृति पर धब्बा, अखिलेश बोले नफरत की राजनीति करती है BJP

सामाजिक चिंतक कांचा इलैया की किताब ‘पोस्ट हिंदू’ इंडिया’ बैन करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

UP में गुंडाराज: अवैध कब्जे का विरोध करने पर पेट्रोल पंप मालिक पांडेय ने की गोलीबारी, 3 की मौत 9 घायल

Related posts

Share
Share