You are here

योगीराज में दलित पिछड़े निशाने पर अब ठाकुरों ने रामपाल तेली की पीट पीटकर हत्या की

लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो।

योगीराज में पिछड़े दलितों पर हमलों की संख्या लगातार बढ़ रही है. आए दिन किसी ना किसी पिछड़े वर्ग या दलित जाति के व्यक्ति के साथ अपराध की खबर सुनने को मिल रही है. इनके खिलाफ होने वाले अपराधों में आश्चर्यजनक रूप से सवर्ण जातियों के लोगों के नाम सामने आना प्रदेश की कानून व्यवस्था के लिए ठीक बिल्कुल नहीं है.

हालिया मामला फर्रुखाबाद से सामने आ रहा है जिसमें रामपाल तेली नाम के बृद्ध को दबंग ठाकुरों ने पीट-पीटकर मार डाला.

कैसे दिया इस दुस्साहस को अंजाम- 

ग्राम नगला नीम रठौरा के रहने वाले रामपाल तेली (60 साल) बकरियां पालकर अपना जीवन यापन करते थे. घटना के दिन वे रघुवर दयाल धोबी के खेत में रोज की ही तरह अपनी बकरियां चरा रहे थे. दिन के करीब दो बज रहे थे. इसी बीच रामपाल ने देखा गांव के ही ठाकुर बिरादरी के सोनू सिंह और उसका मामा छुन्नी सिंह रामपाल तेली की बकरियों को पकड़कर बेचने के लिए ले जा रहे है.

पीट पीटकर मार डाला- 

रामपाल ने सोनू सिंह की इस हरकत का विरोध किया. इससे नाराज सोनू सिंह और छुन्नी सिंह ने रामपाल को लाठी डंडों से पीटकर घायल किया कर दिया. इतना ही नहीं जाति का घमंड इतना सर पर सवार था कि उसने वृद्ध रामपाल का गला दबाकर हत्या कर दी. रामपाल को बचाने का प्रयास करने पर आशाराम तेली को भी पीट-पीट कर अधमरा कर दिया.

इसके बाद गांव वालों ने 100 नम्बर पर फोन करके पुलिस को सूचना दी. पुलिस आई लेकिन आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की. पुलिस के रवैये से गुस्साए लोगों ने सड़क जाम कर दी. इसके बाद सीओ मुहम्मदाबाद और सिटी मजिस्ट्रेट ने मौके पर पहुंचकर गुस्साए लोगों का गुस्सा शांत कराया. हालांकि लोगों का आक्रोश देखते हुए दोनों की गिरफ्तारी हो गई है.

Related posts

Share
Share