You are here

जापानी PM से गुजरात के विकास मॉडल की हकीकत छुपाने के लिए, झुग्गी-झोपड़ी को कपड़े से ढका गया

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की बागडोर संभालने के बाद कहा था कि यह गरीबों की सरकार है। खुद गरीब बताते हुए उन्होंने कहा था कि उन्हें पता है गरीबी क्या होती है? उन्होंने गरीबी को करीब से देखा है।

देश की जनता से प्यार करने और देश के लिए सब कुछ त्याग देने की बात करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए आज देश की गरीब जनता ही शर्म का कारण बन गई है|।

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे दो दिवसीय भारत दौरे आए हैं और उन्होंने मंगलवार को गुजरात का दौरा भी किया था। स्थानीय मीडिया की खबर के अनुसार जापानी पीएम के गुजरात दौरे को देखते हुए अहमदाबाद में झुग्गी-झोपड़ी वाले इलाकों को कपड़़े से ढककर छुपा दिया है। इन इलाकों में वे लोग रहते हैं जिनकी आर्थिक हालत ठीक नहीं है। जिसके चलते यहां पर लोग जुग्गी झोपड़ियों में जीवन बिताने पर मजूबर हैं।

लोगों का कहना है कि यह पहली बार नहीं हुआ है जब अहमदाबाद में झुग्गी झोपड़ी वाले इलाके को कपड़ों से ढका गया हो। इससे पहले साल 2014 में जब चीन के राष्ट्रपति शी जिंनपिंग भारत दौरे पर आए थे तब भी यही कारनामा किया गया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद को पूरी दुनिया में विकास पुरुष की तरह पेश करते हैं अपनी छवि बनाएं रखने के लिए वह गरीबी को नहीं गरीबों को ही हटा रहे हैं| बताते चलें पीएम मोदी लंबे समय तक गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

गुजरात में पिछले 15 वर्षों से बीजेपी की सरकार है। उसके बाद भी राज्य की हालत में सुधार नहीं हुआ है। वहीं गुजरात विकास मॉडल की झूठी तस्वीर पेश करने के लिए झुग्गियों की सच्चाई पर पर्दा डाल दिया|

आपको बता दें साल 2012 में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया था की उन्होंने राज्य में गरीबी रेखा के नीचे आने वाले सभी लोगों को घर देने का रिकॉर्ड बनाया है। आज पांच साल बाद भी मोदी दावे की कसौटी पर खरे नहीं उतर रहे हैं। इससे पता चलते है कि पीएम कहते कुछ हैं और करते कुछ हैं।

Related posts

Share
Share