भाजपा सरकार करा रही है आदिवासियों की हत्या – हेमंत सोरेन

रांची । नेशनल जनमत ब्यूरो।

विपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने सरकार पर एक बार फिर निशाना साधा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सोरेन ने कहा है कि सरकार जंगल में रहने वाले आदिवासियों पर हमला करवा रही है। उन्होंने गत 9 जून को पारसनाथ पहाड़ी पर हुए पुलिस और नक्सली मुठभेड़ को लेकर सवाल उठाया है। सोरेन ने आरोप लगाते हुए कहा है कि सीआरपीएफ ने मामूली दुकान चलाने वाले एक गरीब आदिवासी को नक्सली बता कर हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि मारा गया आदिवासी निर्दोष था और उसका माओवाद से कोई संबंध नहीं था। सोरेन ने कहा कि मारा गया मोती लाल पारसनाथ में डोली उठाने का काम करता था और एक छोटी सी दुकान चलाता था। उन्होंने कहा कि वह मजदूर के रूप में निबंधित भी है।

इसे भी पढ़ें…सुमित पटेल को गोली मारने वाले ठाकुरों के बचाव में योगी पुलिस, 8 पीड़ित कुर्मियों को ही भेजा जेल

मारे गए आदिवासी मजदूर मोती लाल की पत्नी, बच्चे और परिजन सोरेन से मिलने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि झामुमो इस घटना पर खामोश बैठने वाला नहीं है। सोरेन ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार कमजोर और गरीब आदिवासियों की हत्या करवा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस ऑपरेशन के नाम पर जंगलों में रहने वाले आदिवासियों के साथ बर्बरता की जा रही है लेकिन इस पर सरकार का कोई ध्यान नहीं है।

इसे भी पढ़ें...भोपाल के बाद अब उत्तराखंड में भी भाजपा नेता निकली सेक्स रैकेट की सरगना, पार्टी से बाहर

हेमंत सोरेन ने की सीबीआई जांच की मांग

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सरकार को घेरते हुए 48 घंटे के अंदर इस मामले में अपनी स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। उन्होंने न्यायिक या सीबीआइ जांच की मांग की है साथ ही पीड़ित परिवार को 25 लाख रूपए मुआवजा देने की मांग की है। सोरेन ने कहा कि अगर इस मामले पर सरकार अपना रूख स्पष्ट नहीं करती है तो 17 जून को बंद बुलाया जाएगा और इस मामले को सदन में उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि नक्सली के नाम पर गरीब आदिवासियों की इस तरह की हत्या कभी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

1 Comment

  • GVK Biosciences , 14 July, 2017 @ 8:37 pm

    690715 695062Any way Ill be subscribing to your feed and I hope you post once more soon. I dont believe I could have put it far better myself. 255810

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Share