You are here

राष्ट्रवाद की दुहाई देने वालों की सरकार के गृहमंत्री राजनाथ सिंह इतने लाचार क्यों हैं ?

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

प्रतीकों की राजनीति के इस दौर में राष्ट्रपिता मोहन दास करमचंद गांधी, सरदार पटेल, बाबा साहेब अंबेडकर समेत तकरीबन सभी महापुरुषों का इस्तेमाल केवल उनके अनुयायियों के वोट पाने के लिए किया जाता है।

लोकसभा चुनाव से पहले पूरे देश से सरदार पटेल की प्रतिमा के नाम पर लोहा इकट्ठा करने वाली बीजेपी चुनाव जीतने के बाद उस लोहे को कचरे में फेंक देती है और सरदार पटेल की प्रतिमा चीन से बनवाती है।

इतना ही नहीं पीएम मोदी एक तरफ सार्वजनिक मंचों से खुद को बाबा साहेब का अनुयायी बताते हैं लेकिन उनकी सरकार बाबा साहेब के वंचितों के हित में किए गए प्रयासों के उलट आरक्षण को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाती है।

हालिया मामला बापू यानि मोहन दास करमचंद गांधी से जुड़ा हुआ है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक तरफ बापू की जयंती पर एक दिन का उपवास रखने की नौटंकी करते हैं लेकिन उनकी ही सरकार में बापू के हत्यारे का मंदिर बना दिया जाता है।

वरिष्ठ पत्रकार अरविंद शेष लिखते हैं कि राष्ट्रवाद की दुहाई देने वालों की सरकार के गृहमंत्री राजनाथ सिंह लाचार है

वरना क्या वजह है कि राष्ट्रपिता कहे जाने वाले महात्मा गांधी के हत्यारे और इस अपराध में फांसी पर चढ़ा दिए गए अपराधी नाथूराम गोड्से की पूजा-अर्चना हिंदू महासभा ने शुरू कर दिया है और ‘राष्ट्रवाद’ के सारे हरकारे हाथ बांधे आरती गा रहे हैं…

मार्च, 2016 को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बाकायदा संसद में कहा था कि कोई कैसे नाथूराम गोड्से की पूजा कर सकता है… महात्मा गांधी के हत्यारे की पूजा करने वालों के खिलाफ राज्य सरकारों को सख्त कदम उठाने चाहिए..!

लेकिन जिसे गृहमंत्री ने भी संसद तक में हत्यारे कहा, उस हत्यारे की पूजा उनके अपने ही खेमे के लोग करना शुरू कर चुके हैं..! हिंदू महासभा टाइप संगठनों का यह राष्ट्रवाद तो छलक के बाहर आने वाली छौंक हैं…

आरएसएस-भाजपा और उनके तमाम संगठनों के चेहरे से यों भी फर्जी राष्ट्रवाद का पर्दा उतर चुका है ! किसी परमाणु खतरे पर महज विरोध जताने वाले कई दर्जन लोगों पर राष्ट्रद्रोह का मामला ठोंका जा सकता है, बहुत मामूली बातों के लिए राष्ट्रद्रोही कह दिया जा सकता है…

लेकिन राष्ट्रपिता कहे जाने वाले गांधी के हत्यारे और फांसी पर टांग दिए गए अपराधी की पूजा-अर्चना या मंदिर बाकी संकेत देते हैं..! ‘राष्ट्रपिता’ का हत्यारा अगर राष्ट्रद्रोही नहीं है तो राष्ट्रद्रोह और क्या है..? कौन हैं इस राष्ट्रवाद के रचेता..!

हिन्दू महासभा ने बनाया हत्यारे का मंदिर, कांग्रेस बोली बापू के नाम पर नौटंकी करती है BJP

योगी सरकार की मोदी सरकार से अपील पद्मावती की रिलीज रुकवाइए, कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है

हार्दिक: 23 साल के लड़के की गर्लफ्रेंड नहीं होगी तो क्या 50 साल के आदमी की होगी ? पढ़िए पूरा इंटरव्यू

VIP कल्चर खत्म ? CM रमन सिंह की बहू के लिए खाली करा दिया सरकारी अस्पताल का पूरा फ्लोर

BJP नेता की मुस्लिम वोटर्स को धमकी, मेरी पत्नी को नहीं दिया वोट, तो सपा भी बचाने नहीं आएगी

Related posts

Share
Share