You are here

समाजसेवी जफर खान की कब्र खोदने से रोष, मुस्लिम समुदाय के प्रबुद्ध लोगों ने संभाली स्थिति

जयपुर। नेशनल जनमत ब्यूरो

राजस्थान के प्रतापगढ़ में  पिछले दिनों शौच कर रही महिलाओं के फोटो लेने के विवाद में  नगर परिषद कर्मचारियों के साथ मारपीट में मरने वाले श्रमिक नेता जफर खां की कब्र के साथ मंगलवार शाम को छेड़छाड़ की खबर  से शहर में तनावपूर्णकी स्थिति बन गई। एक बारगी पुलिस-प्रशासन की सांसें फूल गई। बाद में मौके पर पहुंचे मुस्लिम समुदाय के प्रबुद्ध लोगों ने स्थिति को संभालते हुए कहा कि ये किसी जानवर द्वारा हटाई गई मिट्टी है. 

इसे भी पढ़ें-सीएम योगी के खिलाफ महिला ने दर्ज कराया केस, महिला की न्यूड तस्वीर वायरल करने का आरोप

क्या था मामला- 

प्रतापगढ़ शहर में बगवास कच्ची बस्ती निवासी सामाजिक कार्यकर्ता जफर खां की 16 जून को मौत हो गई थी. घटनाक्रम के अनुसार निगमकर्मी खुले में शौच जाने वाली महिलाओं के फोटो खींच रहे थे जफर खान ने इसी का विरोध किया था. इसके बाद जफर खान की मारपीट से मौत हो गई थी। इस मामले में शहर में पिछले कई दिन से तनाव बना हुआ है। सोमवार को आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया और रास्ता जाम कर प्रदर्शन किया था।

इसे भी पढ़ें- शर्मनाक- वसुंधरा सरकार के निर्लज्ज और बेहूदे स्वच्छता आदेश ने ली है समाजसेवी जफर खान की बलि

एक्टीविस्ट मोहम्मद जाहिद फेसबुक पर लिखते हैं-

चलिए कब्र खोदकर लाश के साथ दरिंदगी और गंदगी भी शुरु हो गयी , बधाई हो संघियों , यह सब हुआ है रामराज राजस्थान में और कब्र थी “ज़फर” की। आगे रामराज्य में मुस्लिम महिलाओं की कब्र खोदी जाएगी और उनके शव के साथ बलात्कार किया जाएगा। कामरेड ज़फर से शुरुआत हो चुकी है।
ज़फर कौन ? वही जिन्होंने राजस्थान के प्रतापगढ़ में खुले में शौच कर रहीं मुस्लिम महिलाओं का वीडियोग्राफी करने का विरोध किया और मार दिए गये।
यह नीचता की पराकाष्ठा है जिसकी कोई सीमा नहीं।
मोदी जी आप योग करिए देश जाए भाड़ में

Related posts

Share
Share