You are here

अब जाट महासभा भी आई पीड़ितों के साथ, हिंसा को बताया RSS की साजिश

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो 

सामाजिक न्याय के योद्धाओं के लिए सहारनपुर हिंसा के बीच एक और सुकून देने वाली खबर है. वंचितों द्वारा एक दूसरे के दुख साझा करने की मुहिम के तहत सहारनपुर जातीय हिंसा में दलितों के साथ हुए अन्याय के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के दो अधिवक्ता गौरव यादव और मुनव्वर अली कुरैशी आगे आए थे. इसके अगले ही दिन अखिल भारतीय जाट महासभा ने भी पीड़ितों और दलितों के पक्ष में आवाज बुलंद की है.

इसे भी पढ़ें- जातिगत दंभ और सामंतवादी रौब के लिए सहारनपुर में हो रहा है तलवारों का प्रयोग

अखिल भारतीय आदर्श जाट महासभा के राष्ट्रीय महासचिव डॉ. जेएस जाट ने  सहारनपुर जातीय हिंसा पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए.

इसे भी पढ़ें-सहारनपुर हिंसा की जड़ मुजफ्फरनगर दंगों और जाटो को हिंदु बनाए जाने में है

अंबेडकरवादियों को खत्म करना चाहता है आरएसएस- 

डॉ. जेएस जाट ने नेशनल जनमत से बात चीत में जो कहा आप भी पढ़िए-

पश्चिमी उत्तर प्रदेश हमेशा से चौधरी चऱण सिंह जैसे किसान नेताओं और किसान संगठनों की वजह से जाना जाता था. लेकिन जब से यहां बाहरी तत्वों ने घुसकर छद्म राजनीति करनी शुरू की है. तब से यहां ऐसी जातीय हिंसा शुरू हो गई है. सहारनपुर जातीय हिंसा की निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि हिंसा में मारे गये सभी परिवारों को न्याय दिलाने किए महासभा प्रतिबद्ध है.

इसे भी पढ़ें- भीम आर्मी के रावण ने जताई एनकाउंटर की आशंका, सरकार की मंशा में साजिश की बू

उन्होंने कहा महासभा दोषियों को तत्काल गिरफ्तार कर सजा दिलाने की सरकार से अपील करती है. बहुत ही दूर्भाग्य पूर्ण है हिंदू धर्म के सभी जातियों को एक  करने की दुहाई देने वाली योगी सरकार दो महापुरुषो के अनुयायियों को लड़वाने का घिनौना काम कर रही है.

इसे भी पढ़िए-सहारनपुर हिंसा में दलितों के साथ मुस्लिम-यादव वकील, सुप्रीम कोर्ट में डाली याचिका

एक तरफ़ महाराणा प्रताप के नाम का सहारा लेकर कुछ उपद्रवी आतंक मचाये हुए हैं. दूसरी ओर अम्बेडकर वादी बौद्ध धर्म को rss द्वारा समाप्त या निष्क्रिय करने की साम्प्रदायिक हिंसा तो नहीं है. वैसे मोदी केन्द्र सरकार बाबा साहब के नाम पर भीम ऐप लांच करती है दूसरी ओर भीम के अनुयायियों को मरने को छोड़ देती है .

ईश्वर सभी राजनीतिक दलों को सद्बुद्धि दे !

इसे भी पढ़ें-  राजस्थान के सवर्णों की सत्ता में सेंध लगा रही है जाट मीणा की ये जोड़ी

Related posts

Share
Share