You are here

जितेन्द्र यादव फर्जी एनकाउंटर: SI गिरफ्तार,सपा बोली जाति देखकर गोली मरवा रही है योगी सरकार

लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

नोएडा में एक ‘फर्जी’ एनकाउंटर से पूरे प्रदेश में हडकंप मचा है। परिवार के आरोप पर सब-इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है। परिवार का आरोप है कि जाति की वजह से गोली मारी गई है। एनकाउंटर में घायल युवक का नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में इलाज चल रहा है।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद से तेजी से बढ़ते अपराधों पर सरकार की किरकिरी होते देख सीएम आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस की कार्यप्रणाली बिना समझे ही उन्हे एनकाउंटर की छूट दे दी।

ट्रकों की निकासी पर मुट्ठी में 10 रुपये का नोट भी थाम लेनी वाली यह पुलिस पैसे के लिए क्या नहीं कर सकती ये बात किसी को साबित करने की जरूरत नहीं हैं। ऐसे में यूपी में हो रहे एनकाउंटरों पर लगातार विपक्षी दल संदेह व्यक्त कर रहे हैं।

परिवार का आरोप फर्जी मुठभेड़ दिखाई- 

एक शख्स को फर्जी मुठभेड़ में गोली मारने का आरोप लगा है। यह आरोप लगाया है जितेन्द्र यादव नाम के शख्स के परिवार वालों ने। जितेन्द्र यादव के परिवार वालों का कहना है कि यूपी पुलिस ने एक फेक एनकाउंटर में उसे गोली मारी है।

परिवार कहना है कि उसे उसकी जाति की वजह से गोली मारी गई। शनिवार (3 फरवरी) रात को नोएडा के सेक्टर 122 के पास जितेन्द्र यादव को गोली मारी गई थी।

जितेन्द्र यादव को घायल अवस्था में नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती की गई है। जितेन्द्र यादव के परिवार के आरोपों का समाजवादी पार्टी ने समर्थन किया है।

सपा बोली जाति देखकर गोली मरवा रही है सरकार- 

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने नेशनल जनमत से बातचीत में यूपी पुलिस पर प्रमोशन के लिए बेगुनाहों को गोली मारने का आरोप लगाया है।

नरेश उत्तम ने कहा कि ‘जितेन्द्र यादव नाम के एक बेगुनाह को गर्दन में गोली लगी है, ये यूपी पुलिस की नोएडा में असफल मुठभेड़ की कोशिश है,  इसलिए यूपी सरकार इस मुद्दे को मीडिया से दूर रखने की कोशिश कर रही है।

यूपी पुलिस की सफाई- 

यूपी पुलिस ने ट्वीट किया कि इस बारे में नोएडा पुलिस से जानकारी ली जा रही है। नोएडा के एसएसपी के मुताबिक ये एनकाउंटर का मामला नहीं है।

मामले में एक सब-इंस्पेक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया गया है और उसे गिरफ्तार किया गया है। मामले में कुल चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया है।

बता दें कि यूपी पुलिस ने पिछले 48 घंटों में 15 एनकाउंटर किये हैं। पुलिस ने इन मुठभेड़ों में एक बदमाश को मार गिराने और 24 वांछित अपराधियों को पकड़ने का दावा किया है।

गेहूं से विश्व का सबसे बड़ा सिक्का बनाने वाले किसान शैलेन्द्र उत्तम योगी सरकार की उपेक्षा से दुखी

बोधि वृक्ष रोपकर 27 सालों से बुद्ध की करुणा का प्रसार कर रहे हैं डॉ. धर्मेन्द्र पटेल, पर्यावरण प्रेम बन गई है पहचान

आरक्षण पर सुनियोजित हमले के खिलाफ प्रदेश भर के बुद्धिजीवियों को एकजुट कर रहा है ‘जनाधार संगठन’

PMO को बताना होगा कि प्रधानमंत्री के साथ विदेशी दौरों पर प्राइवेट कंपनियों से कौन-कौन जाता है ?

 

Related posts

Share
Share