You are here

पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने उठाए सवाल, SEX CD के आरोपी BJP मंत्री का इस्तीफा मांगा

नई दिल्ली/रायपुर, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी और राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री की कथित अश्लील सीडी सामने आने के बाद कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ की रमन सिंह सरकार पर गंभीर सवाल उठाए हैं।

छत्तीसगढ़ में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने आरोपी मंत्री से इस्तीफा मांगा है. उधर, पत्रकार की गिरफ्तारी से पत्रकारों और मीडियाकर्मियों में आक्रोश है. कई वरिष्ठ पत्रकारों ने इस गिरफ़्तारी को राजनीति से प्रेरित बताते हुए पुलिस के दावों पर सवाल उठाए हैं.

अदालत में पुलिस कोई भी सीडी पेश नहीं कर पाई. पुलिस ने अदालत से वर्मा की रिमांड मांगी, लेकिन कोर्ट ने रिमांड नहीं दी, बल्कि वर्मा को ट्रांजिट रिमांड पर भेज दिया है.

उधर आरोपी पीडबल्यूडी मंत्री राजेश मूणत ने कहा कि यह सीडी फर्जी है और चरित्र हनन का प्रयास है। एक चैनल के अनुसार विनोद वर्मा ने दावा किया है कि ‘मेरे घर से पुलिस को दो लाख 26 हजार कैश, लैपटॉप और पेन ड्राइव मिली है. मेरे पास बहुत बड़ा मामला है। इस मामले को दबाने के लिए मुझे गिरफ्तार किया गया है।

बीजेपी-कांग्रेस आमने-सामने- 

इस मामले को लेकर भाजपा कांग्रेस में सियासी घमासान छिड़ गया है। कांग्रेस ने इस मामले को प्रेस की आजादी पर हमला करार देते हुए कहा है कि पत्रकार उक्त सीडी की जांच कर रहे थे, उन्हें तुरंत रिहा किया जाए। इसके जवाब में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए भाजपा ने कहा कि यह शर्मनाक है कि विपक्षी दल आपराधिक गतिविधि को मीडिया की स्वतंत्रता से भ्रमित कर रही है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने मंत्री से इस्तीफे की मांग की है। भूपेश बघेल ने कहा है कि एफआईआर करने वाले ने अपने आका का नाम नहीं बताया है। उसमें विनोद वर्मा का कहीं भी नाम नहीं है। चार बजे एफआईआर होती है और रात दो बजे विनोद वर्मा को गिरफ्तार कर लिया जाता है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि यह भाजपा की आंतरिक लड़ाई है जिसके चलते एफआईआर की गई और छापा डाला गया. दिल्ली और मध्यप्रदेश के मंत्री की तरह यहां भी मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए या उन्हें बर्खास्त किया जाना चाहिए।

बघेल ने दावा किया कि उनके पास भी सीडी थी. लेकिन उसे वह प्रमाणित नहीं कर सकते हैं, क्योंकि सीडी की प्रमाणिकता की जांच नहीं हुई है. सीडी को उजागर भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किया है.

भाजपा ने कांग्रेस नेता भूपेश बघेल पर लगाए आरोप- 

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता शिवरतन शर्मा ने कहा हमें जानकारी मिली है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल द्वारा सीडी बंटवाई जा रही है। बघेल ने स्वीकार किया है कि ऐसी सीडी उनके पास भी है।

उन्होंने कहा कि विनोद वर्मा कौन है और भूपेश बघेल से उनकी क्या रिश्तेदारी है, कांग्रेस में उनकी क्या भूमिका है? यह भी स्पष्ट होना चाहिए. अगर वह पत्रकार हैं तो पांच सौ अश्लील सीडी उनके पास क्यों थी.

अजय माकन ने कहा प्रेस पर हमला है विनोद वर्मा की गिरफ्तारी- 

कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता अजय माकन ने वर्मा की गिरफ्तारी की चर्चा करते हुए कहा, नरेंद्र मोदी सरकार एवं छत्तीसगढ़ सरकार प्रेस की आजादी पर प्रहार करती रही हैं, उसे दबाती रही है।

हम वर्मा की गिरफ्तारी की कड़ी भर्त्सना करते हैं और मांग करते हैं कि उन्हे फौरन रिहा किया जाना चाहिए। साथ ही राज्य के संबंधित मंत्री के खिलाफ आरोपों की न्यायिक जांच कराई जानी चाहिए।

नोटबंदी की ‘जयंती’ 8 नवंबर पर विपक्ष मनाएगा काला दिवस, बिहार में विरोध में रैली करेंगे लालू यादव

पत्रकार विनोद वर्मा बोले, मेरे पास छत्तीसगढ़ के मंत्री की SEX CD है इसलिए BJP सरकार मुझे फंसा रही है

अब मोदीराज में हास्य पर भी पहरा, श्याम रंगीला से चैनल ने कहा राहुल की मिमिक्री कर लो मोदी की नहीं

29 अक्टूबर को आयोजित सरदार पटेल जयंती की तैयारियां पूरी, दिल्ली में 19 जगहों पर होगी वाहन व्यवस्था

पढ़िए समग्र विश्लेषण: क्यों राजस्थान में BJP चुनाव आने से पहले ही चुनाव हार गई है ?

 

Related posts

Share
Share