You are here

जुमलेबाजी ! रूस की तस्वीर दिखाकर पीयूष गोयल बोले, मोदी सरकार ने चमका दी हजारों किमी सड़क

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो 

मोदी सरकार को अपनी अतिश्योक्तिपूर्ण भाषणबाजी के चक्कर में कई बार जलालत का सामना करना पड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हाल में ही लाल किले की प्राचीर से नोटबंदी के झूठे आंकड़े देने के आरोप लगे थे। अब उनके मंत्री भी झूठ बोलने में उनसे कदमताल कर रहे हैं।

इस बार मोदी सरकार को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल की एक हरकत से शर्मसार होना पड़ रहा है. इसे पहले स्पेन-मोरक्को की सड़क को भारत-पाक बार्डर की लाइटिंग बताकर गृहमंत्रालय माफी मांग चुका है।

देखिए ये खबर- वाह मोदी जी स्पेन मोरक्को की तस्वीर लगाकर बोले हमे हमने भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर लाइटें लगवा दी हैं

रविवार को ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने एक तस्वीर पोस्ट कर दावा किया कि केंद्र की मोदी सरकार की बदौलत हम भारतीय सड़कों को जगमगाने में सफल हो पाए हैं।

दरअसल ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने जिस झूठी तस्वीर को पोस्ट किया वह भारत की नहीं बल्कि रूस की है। ऊर्जा मंत्री ने रूस की इस तस्वीर को भारत का बताकर ट्वीट किया, भारत सरकार ने 50 हज़़ार किमी की सड़कों पर 30 लाख एलईडी लाइट्स से चमकाने का काम कर दिखाया है।

पीयूष गोयल की यह झूठी तस्वीर सोशल मीडिया के यूज़र्स की पैनी निगाहों से बच नहीं पाई। जॉय दास ने उर्जा मंत्री की इस झूठी तस्वीर को पकड़ लिया और कहा कि यह तस्वीर भारत की नहीं रूस की है। जॉय दास ने तस्वीर की सच्चाई बताते सरकार पर तंज कसा।

जॉय दास का ये ट्वीट आनन-फानन वायरल हो गया। देखते ही देखते इसे करीब 22 हज़ार से अधिक लोगों ने रिट्वीट कर दिया। इस फेक तस्वीर की ख़बर ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल के पास पहुंची। उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ उसके बाद उन्होंने तस्वीर को हटा दिया।

यह पहली बार नहीं है जब केंद्र सरकार के किसी मंत्री ने झूठ बोला हो। कुछ समय पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर स्पेन-मेक्सिको बॉर्डर की तस्वीर को भारत-पाक का बताया गया था। जिसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने सरकार की कड़ी आलोचना की थी। जिसके बाद गृह मंत्रालय ने अपनी गलती स्वीकार की थी।

Related posts

Share
Share