You are here

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी पर बिहार में चार सौ बीसी का केस दर्ज

नई दिल्ली। नेशनल जनमत

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी पर बिहार के दरभंगा जिले की अदालत में ठगी के आरोप में 420 का मामला दर्ज कराया गया है. दरभंगा जिले के सीजेएम की अदालत में शिकायत दर्ज कराते हुए इस मामले में मनोज तिवारी के साथ ही तीन अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया गया है.

ये भी पढ़ें-क्या संघी न होने की वजह से वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलश को छोड़ना पड़ा राज्यसभा टीवी

क्या है पूरा मामला- 

शिकायतकर्ता का नाम मुन्ना चौधरी है. मुन्ना चौधरी ने रियल एस्टेट की कंपनी वास्तु विहार पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराते हुए कहा कि वास्तु विहार कंपनी ने जिस तरह के फ्लैट देने वादा किया था वैसा फ्लैट नहीं दिया गया. साथ ही पैसे वापस मांगे जाने पर तरह तरह की बहाने बाजी के साथ आनाकानी की जा रही थी. जिसे देखते हुए हमने यह मुकदमा आईपीसी की धारा 120 बी, 420, 406, 467, 468, 471 के तहत दर्ज कराया है.

इसे भी पढ़ें- मिशनरी एडवोकेट यादव-कुरैशी के जज्बे को सोशल मीडिया पर सलामी

मनोज तिवारी ने किया था वास्तु विहार का प्रचार- 

शिकायतकर्ता मुन्ना चौधरी ने बताया कि वर्ष 2013 में हमने अपार्टमेंट बुक करवाया था. जिसमें 12 महीने के बाद फ्लैट देने का वादा किया गया था। इसके एवज में कंपनी ने हमसे 8 लाख रुपए भी लिए थे पर आज तक हमें कोई फ्लैट नहीं दिया गया. वहीं पैसा मांगने पर धमकी भी दी जा रही थी. हमने इस कंपनी पर भोजपुरी फिल्म के अभिनेता और सांसद मनोज तिवारी के प्रचार करने को लेकर विश्वास किया था.

मनोज तिवारी के इस कंपनी में शामिल होने को लेकर मुझे पूरा विश्वास था कि वह धोखाधड़ी नहीं कर सकते पर ऐसा हुआ नहीं. हमने उन्हीं से प्रभावित होते हुए इस कंपनी को पैसा दिया था. इसी को लेकर मैंने मामला दर्ज कराया है.

इसे भी पढ़ें- भीम आर्मी के रावण ने जताई एनकाउंटर की आशंका, सरकार की मंशा पर शक

Related posts

Share
Share