You are here

म.प्र. में श्मशान पर ब्राह्मणों का कब्जा, पुलिस की मौजूदगी में करना पड़ा दलित का अंतिम संस्कार

नई दिल्ली/भोपाल। नेशनल जनमत ब्यूरो

मध्यप्रदेश के मुरैना जिले से शर्मसार करने वाली खबर सामने आ रही है। यहां जवाहर कॉलोनी के एक दलित युवक की बीमारी से मौत हो गई। परिवार के लोग जब शव को लेकर श्मशान पहुंचे तो ब्राह्मण परिवार ने अंतिम संस्कार करने से रोक दिया। यही नहीं इस दौरान परिजनों को धमकी भी दी गई।

पुलिस की मौजदूगी में हुई अंत्येष्टि- 

पीड़ित  परिवार ने जाकर पूरा मामला पुलिस को बताया इसके बाद  पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव की अंत्येष्टि कराई। अब परिवार व बस्ती के लोग कलेक्टर के पास श्मशान की जमीन से अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर पहुंचे हैं।

इसे भी पढ़ें-गौ हत्या के शक में गौगुंडों ने उस्मान के घर पर बोला हमला लगी दी आग, पत्थरबाजी में 50 पुलिसकर्मी घायल

घटना क्या है- 

मुरैना जिले के जवाहर कॉलोनी जौरा निवासी 35 वर्षीय बेताल पुत्र गनेश की बीमारी की वजह से 25 जून की शाम को मौत हो गई थी। 26 जून को परिवार व बस्ती के लोग श्मशान पर बेताल का अंतिम संस्कार करने के लिए गए।  तभी वहां श्यामू पंडित अपने कुछ परिवार के लोगों के साथ लाठी-डंडे लेकर पहुंचा. बेताल के परिवार व मोहल्ले के लोगों को अंतिम संस्कार कराने से रोका और धमकाते हुए बोला कि यहां अंतिम संस्कार किया तो सभी की जूतों से पिटाई करेगा।

इसके बाद परिजनों ने डायल 100 को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और अंतिम संस्कार कराया।

इसे भी पढ़ें- बीएचयू कुलपति प्रोफेसर त्रिपाठी के राज्य में खत्म हुए ओबीसी-एससी-एसटी के पद, सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिस

Related posts

Share
Share